Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

दुनिया का सबसे बड़ा टेक शो सीईएस 2018 शुरू

प्रकाशित Wed, 10, 2018 पर 10:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

लास वेगस में दुनिया के सबसे बड़े टेक शो कन्ज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स शो की शुरुआत हो चुकी है। सैमसंग, सोनी समेत करीब 4000 कंपनियां सीईएस में अपने लेटेस्ट गैजेट्स और इनोवेशन लेकर तैयार हैं। दुनियाभर से 1 लाख 70 हजार से ज्यादा विजिटर इस शो में हिस्सा लेने पहुंचने हैं। अब तक सीईएस में किन गैजेट्स ने हलचल मचाई, चलिए आपको बताते हैं।


इस साल कन्ज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स शो में रोबॉटिक्स, वीआर और डिस्प्ले ने खूब धूम मचाई है। आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस से लैस रोबॉट्स ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा जहां वॉन्डर वर्कशॉप का आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस से लैस क्यू रोबॉट बच्चों को कोडिंग सिखाता दिखा वहीं सोनी का रोबो डॉग अपने आस पास के लोगों को पहचान कर उनके साथ किसी असली पपी की तरह ही खेलता है। ओएलईडी आंखे और नाक में फिट कैमरा से ये रोबो डॉग वेबकैम की तरह भी काम करता है। इसके अलावा डिजिटल वॉइस असिसटेंट पर चलने वाले कई अनोखे गैजेट्स भी इस बार सीईएस का हिस्सा बने। किसी भी फेरीटेल को रिएलिटी में बदलता हाइ मिरर मिनी भी ऐसा ही एक गैजेट है। ये स्मार्ट मिरर अमेजॉन एलेक्सा से लैस है जो आपकी शक्ल देखते ही स्किन को एनालाइज कर उससे जुड़ी सारी बाते सामने ला देता है और आपकी सेहत के लिए सलाह भी देता है।


डिस्पले और टीवी के दुनिया में भी कई नए इनोवेशन देखने को मिले और इनमें सबसे अनोखा था एलजी का मुड़ने वाले टीवी। 65 इंच का 4के ओलेड टीवी मोड़ कर छोटे बॉक्स में भी फिट किया जा सकता है, ये दुनिया का पहला फोल्ड होने वाला टीवी है।


जहां सीईएस में अनोखे टीवी और डिस्प्ले ने धूम मचाई है टेस्ला की इलेक्ट्रॉनिक कार को टक्कर देने का पूरा इंतजाम भी इस शो में किया गया है। चाइनीज स्टार्टअप बायटन की इलेक्ट्रिक एसयूवी लोगों को काफी आकर्षित कर रही है। बायटन एसयूवी अल्ट्रा मॉडर्न टेक्नोलॉजी से लैस है जिसमें फेशियल रिकग्निशन, डैशबोर्ड जितना बड़ा टच डिस्प्ले और 3 ऑटोनॉमस ड्राइविंग मोड जैसे बेहद ही खास फीचर हैं। इसके अलावा इस कार की विंड शील्ड को डिस्प्ले की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है। टोयोटा ने भी ट्रांसपोर्टेशन के भविष्य की झलक दिखाई अपने ई-पैलेट (E-Palette) के जरिए। ये कॉन्सेप्ट  व्हिकल बैटरी पर चलती है और आसानी से कस्टमाइज की जा सकती है। यहां तक की इस गाड़ी की बाहरी सूरत को बस ग्राफिक्स बदलकर अलग अलग काम के लिए इस्तेमाल लाया जा सकता है।