Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

मोदीकेयर योजना की पेंच में फंसे छोटे शहर

प्रकाशित Wed, 07, 2018 पर 19:14  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बजट में सरकार ने देश के 50 करोड़ परिवारों को 5 लाख का मुफ्त हेल्थ इंश्योरेंस देने का वादा किया है। लेकिन छोटे और मझोले शहरों में रहने वालों के लिए इस योजना का लाभ ले पाना मुश्किल होने वाला है। 


मोदी केयर योजना छोटे, मझोले शहरों में नाकाम हो सकती है क्योंकि इन अस्पतालों के लिए एनएबीएच मान्यता की प्रस्तावित शर्त रखी गई है यानि मोदी केयर का इम्पैनलमेंट एनएबीएच उन्हीं मान्यता प्राप्त अस्पतालों में होगा।


बता दें कि एनएबीएच, अस्पतालों को प्रमाणपत्र देने वाली संस्था है। छोटे, मझोले शहरों में एनएबीएच प्रमाणित अस्पताल कम है। 55,000 से अधिक अस्पताल एक्रिडिएशन के दायरे से बाहर है। देश में कुल 1,275 एनएबीएच प्रमाणित चिकित्सा संस्थान है जबकि देश में एनएबीएच पूर्ण प्रमाणित 507 बड़े अस्पताल और प्रारम्भिक प्रमाणित 383 अस्पताल है।