Moneycontrol » समाचार » निवेश

योर मनीः महिलाओं को कैसे मिलेगा सपनों का घर

प्रकाशित Thu, 05, 2018 पर 16:11  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

घर का सपना हर किसी के जीवन का सबसे अहम सपना होता है। इसी को पूरा करने के लिए हम कई बार आर्थिक रूप से अपने आज के साथ समझौता करते हैं। योर मनी का फोकस उन महिला निवेशकों पर है, जो की अपना खुद का आशियाना पूरा करने का ख्वाब देख रही हैं। साथ ही वो माता-पिता जो की अपनी बेटी की पढाई के लिए कर्ज या निवेश रणनीति चाहते हैं और हमारे साथ मौजूद हैं एटिका वेल्थ मैनेजमेंट के निखिल कोठारी।


निखिल कोठारी का कहना है कि महिला घर खरीदार को बढ़ावा देने की कोशिश की गई है। कई बैंकों में महिलाओं के लिए खास ब्याज दर की सुविधा उपलब्ध है। महिला के नाम से घर होने पर कई राज्यों में स्टैंप ड्यूटी माफ है। कुछ राज्यों में आधी स्टांप ड्यूटी 1 फीसदी से 2 फीसदी माफ है। दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान में 4 फीसदी स्टांप ड्यूटी छूट मिल रही है। महिला के नाम पर घर खरीदने पर सालाना 2 लाख तक की ब्याज में छूट दी गई है।


निखिल कोठारी के मुताबिक प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत महिलाओं को घर खरीदने में रियायत मिली है। पीएमएवाय योजना के तहत महिला घर खरीदार को 2.67 लाख तक की सब्सिडी मिलेगी। महिलाओं को प्रेफ्रेंशियल एलॉटमेंट की श्रेणी में रखा गया है। क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम (सीएलएसएस) के तहत ब्याज पर सब्सिडी मिलेगी। 6 लाख तक के लोन पर 6.5 फीसदी की ब्याज सब्सिडी मिलेगी। एमआईजी-I  में 9 लाख तक के लोन पर 4 फीसदी ब्याज सब्सिडी और एमआईजी-II में 12 लाख के लोन के लिए 3 फीसदी ब्याज सब्सिडी दी गई है। ब्याज पर सब्सिडी मार्च 2019 तक लागू है।