Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आयुष्मान पर मतभेद, राज्य और केंद्र आमने-सामने

प्रकाशित Thu, 05, 2018 पर 17:37  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सरकार की आयुष्मान भारत योजना पर केंद्र और राज्यों में मतभेद पैदा हो गए है। सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक इस मतभेद की वजह है लाभार्थियों की पहचान और संख्या। दरअसल राज्यों ने योजना का लाभ देने के लिए बीपीएल को आधार रखने की मांग है। तो वहीं केंद्र 2011 के सेंसस को आधार बनाना चाहती है।


सूत्रों का कहना है कि आयुष्मान भारत पर केंद्र और राज्य  आमने सामने आए है। केंद्र ने 2011 की जनगणना के आधार पर की लोगों की पहचान है तो वहीं राज्यों ने लाभार्थियों की सूची खुद बनाने की मांग की है। क्रेंद एसईसीसी-2011 के मुताबिक लाभार्थियों की पहचान की है। एसईसीसी-2011 से राज्यों के कई गरीब परिवारों को लाभ नहीं मिलेगा। ऐसे में लाभार्थियों के छूटने से राज्यों को वोट बैंक खिसकने का डर बना हुआ है। वहीं कई राज्य अपनी अलग स्वास्थ्य बीमा योजना चला रहे है। अधिकतर राज्यों की स्वास्थ्य बीमा योजना बीपीएल सूची के मुताबिक है। 10 करोड़ परिवारों को आयुष्मान भारत का लाभ मिलना है।