Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

एक्सिस बैंक: शिखा शर्मा का कार्यकाल घटा

प्रकाशित Tue, 10, 2018 पर 08:19  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एक्सिस बैंक की एमडी और सीईओ वक्त से पहले अपना पद छोड़ेंगी। बैंक के बोर्ड ने शिखा शर्मा का कार्यकाल घटाने को मंजूरी दे दी है। अब शिखा शर्मा 31 दिसंबर 2018 तक ही बैंक की एमडी और सीईओ रहेंगी। दरअसल एक्सिस बैंक के बोर्ड ने शिखा शर्मा का कार्यकाल एक जून से 2018 से 3 साल के लिए बढ़ाया था। लेकिन शिखा शर्मा ने बोर्ड से उनका कार्यकाल घटाने के लिए अनुरोध किया था जिसे बोर्ड ने मान लिया है। अब इस पर आरबीआई की मंजूरी का इंतजार है। बता दें कि शिखा शर्मा जून 2009 से एक्सिस बैंक की सीईओ हैं।


इस बीच दिग्गज ब्रोकरेज फर्म सीएलएसए ने एक्सिस बैंक पर एक रिपोर्ट निकाली है। सीएलएसए का कहना है कि बैंक की स्थिरता और वैल्युएशन के लिहाज से शिखा शर्मा के उत्तराधिकारी का चुनाव बेहद अहम है। अगर बैंक बाहर से उत्तराधिकारी तलाशना चाहता है तो दिग्गज निजी बैंकों या भारत में काम कर रहे विदेशी बैंकों के सीनियर विकल्प हो सकते हैं। सीएलएसए के मुताबिक टॉप मैनेजमेंट में बदलाव से मर्जर एंड एक्विजिशन की गतिविधियों में बढ़ोतरी हो सकती है। सीएलएसए का मानना है कि एनपीए को लेकर बैंक में ज्यादा जोखिम नहीं लग रहा है और मौजूदा वैल्युएशन पर बैंक बेहतर लग रहा है।


उधर सेबी के पूर्व चेयरमैन एम दामोदरन ने कहा है कि शिखा शर्मा को दोबारा नियुक्त करने वाले मामले में एक्सिस बैंक के बोर्ड की भूमिका भरोसे के लायक नहीं है और बोर्ड को शिखा शर्मा का उत्तराधिकारी चुनने के लिए सबसे अच्छे उम्मीदवार का चयन करना चाहिए।


एम दामोदरन ने ये भी कहा है कि आईसीआईसीआई बैंक और वीडियोकॉन के मामले में बोर्ड को बाहरी एजेंसी से जांच करानी चाहिए थी। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि सीबीआई की जांच पूरी होने तक चंदा कोचर को अपने पद से हट जाना चाहिए।