Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

बिहार में स्टेडियम बनाने के नाम पर घपला

प्रकाशित Thu, 12, 2018 पर 09:35  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बिहार में खेल के नाम पर फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया है। स्टेडियम बनाने के नाम पर करोड़ों रुपये का खेल हुआ है। फाइलों में लाखों रुपये के स्टेडियम बन तो गए लेकिन जमीन पर स्टेडियम जैसा कुछ नहीं है। राज्य में खिलाड़ियों के सपनों के साथ खिलवाड़ पर सहयोगी चैनल, न्यूज 18 बिहार की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट बता रही है कि स्टेडियम के नाम पर कैसा फर्जीवाड़ा किया गया। राज्य में 1-2 नहीं, करीब 100 स्टेडियम हैं जिनमें घपला हुआ है।


दरअसल बिहार सरकार ने 2008-09 में मुख्यमंत्री खेल विकास योजना के तहत अनुमंडलों और प्रखंडों में स्टेडियम बनाने का फैसला लिया। इसके तहत 5 साल में 69 करोड़ 57 लाख 66 हजार रुपये आवंटित हुए। जिन जगहों पर स्टेडियम का दावा सरकार कर रही है वहां हकीकत में सिर्फ कुछ सीढ़ियां बना दी गई हैं। ब्रम्हपुर में बना स्टेडियम इसकी बानगी है। ब्रम्हपुर जैसा ही कुछ हाल भोजपुर के बिहिया में बने जादोपुर फुटबॉल स्टेडियम का भी है। जंगल और झाड़ के बीच कुछ सीढ़ियां बनी हैं जिसे सरकार स्टेडियम बता रही है।


स्टेडियम की इन तस्वीरों ने बिहार सरकार के दावों की पोल खोल दी है। इतना ही नहीं शिवचंद्र राम कहना है कि जब कला संस्कृति मंत्री थे तो उन्होंने घपलों की जांच कराने के लिए आदेश दिए थे। बिहार में खेल और खिलाड़ियों का इतना बुरा हाल क्यों है स्टेडियम ने नाम पर पैसों के खेल से इस सवाल का जवाब मिल जाता है।