कैसे रहेंगे ऑटो सेक्टर के चौथी तिमाही नतीजे

प्रकाशित Thu, 12, 2018 पर 15:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जनवरी मार्च तिमाही के दौरान कंजम्पशन, मेटल और ऑटो सेक्टर के नतीजे बेहतर रहने की उम्मीद है। ऑटो सेक्टर के नतीजे कैसे रह सकते हैं और किन कंपनियो पर करें फोकस आइए जानते हैं।


ऑटो सेक्टर के चौथी तिमाही के नतीजों की बात करें तो लो बेस की वजह से इस सेक्टर से बेहतर नतीजों की उम्मीद है। चौथी तिमाही में सभी सेग्मेंट में मजबूत वॉल्यूम ग्रोथ रही है। ग्रामीण इलाकों में रिकवरी से ऑटो कंपनियों को फायदा मिलेगा। कंस्ट्रक्शन, माइनिंग गतिविधियों में सुधार से से भी ऑटो कंपनियों को फायदा होगा। इस तिमाही में एस्कॉर्ट्स, एमएंडएम के बिक्री, मार्जिन में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद है। कर्मिशियल, दो पहिया वाहनों की ब्रिकी में सुधार दिखेगा जबकि कमोडिटी के दाम बढ़ने से मार्जिन स्थिर रह सकते हैं।


नया प्लांट शुरू होने से आयशर के नतीजे मजबूत रहने की संभावना है। टाटा मोटर्स की घरेलू बिक्री मजबूत रह सकती है। हालांकि टाटा मोटर्स की जेएलआर परफॉर्मेंस निराश कर सकती है। चौथी तिमाही में मारुति के नतीजे भी ठीक रहने की संभावना है। एमएंडएम, अशोक लीलेंड, एस्कॉर्ट्स के नतीजे शानदार रहने संभव हैं। ऑटो-एंसीलरी कंपनियों के नतीजे भी अच्छे रह सकते हैं।