Moneycontrol » समाचार » प्रॉपर्टी

रियल एस्टेट गाइड: कैसा है कोलकाता का प्रॉपर्टी मार्केट

प्रकाशित Sat, 14, 2018 पर 19:33  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पूर्वी भारत का सबसे बड़ा शहर कोलकाता। पारंपरिक, आध्यात्मिक और आधुनिकता को समेटे कोलकाता की अपनी अलग ही पहचान है। ब्रिटिश एम्पायर का पसंदीदा शहर रहे कोलकाता में विक्टोरिया मेमोरियल, हावड़ा ब्रिज और ट्राम आज भी पुराने वक्त की कहानी कह रहे हैं। कभी भारत का मुख्य शहर रहे कोलकाता ने 1960 से 1990 के दौरान काफी आर्थिक उतार चढ़ाव देखे। इस बीच ढेरों इंडस्ट्रीज ने कोलकाता से पलायन तक कर लिया।


समय के साथ कोलकाता में फिर से नई जान आई और कंपनियों ने कोलकाता का रुख करना शुरू किया। आज कोलकाता में जूट से लेकर इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट्स बन रहे हैं। सोशल इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में भी कोलकाता काफी आगे बढ़ चुका है। रोड, रेलवे और इंटरनेशनल एयरपोर्ट की वजह से कोलकाता देश ही नहीं दुनियाभर से कनेक्ट है। बढ़ते शहरीकरण के चलते कई नए इलाके तैयार हो रहे हैं, जिसका सबसे बड़ा श्रेय जाता है कोलकाता के रियल एस्टेट मार्केट को। बढ़ती इंडस्ट्री और आईटी कंपनियों की वजह से कोलकाता में घरों की डिमांड लगातार बढ़ रही है। जिसकी वजह से आज कोलकाता में ढेरों लोकल और राष्ट्रीय स्तर के डेवलपर्स अपने प्रोजेक्ट बना रहे हैं।


कोलकाता के रियल एस्टेट डेवलपर मर्लिन ग्रुप 1984 से अस्तित्व में आई मर्लिन ग्रुप की शुरूआत सुशील मोहता ने की थी। बीते 3 दशक में कंपनी ने अपना दायरा कोलकाता से बढ़ाकर अहमदाबाद, रायपुर, चेन्नई और पुणे तक कायम किया। अब तक कंपनी ने 1 करोड़ वर्गफीट से भी ज्यादा कंस्ट्रक्शन किया है, पूरे भारत में मर्लिन ग्रुप ने 500 एकड़ का लैंड बैंक तैयार किया है, देशभर में 100 से ज्यादा प्रोजेक्ट बनाए हैं। मर्लिन ग्रुप के काम का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनकी ज्यादातर बिक्री पुराने ग्राहकों के रिफ्रेन्स पर हुई है, शायद इसी बात का नतीजा है कि साल दर साल कंपनी 30 फीसदी से भी ज्यादा की ग्रोथ करती रही है।


मर्लिन ग्रुप का प्रोजेक्ट 5 एवेन्यू बंगाल हाउसिंग बोर्ड के साथ एक ज्वाइंट वेंचर प्रोजेक्ट है। करीब 5 एकड़ में बन रहे इस प्रोजेक्ट में कुल 5 टॉवर हैं जिनमें एक टॉवर सरकार द्वारा संचालित लॉटरी सिस्टम के जरिए पूरी तरह से एमआईजी ग्रुप को समर्पित है। बाकी के चारों टॉवर्स में 3 बीएचके से लेकर 6 बीएचके के घर प्लान किए गए हैं जहां 1062 वर्गफीट से लेकर 2870 वर्गफीट एरिया के घर हैं। 5th एवेन्यू में टॉवर्स की हाइट एलीवेशन और डिजाइन के आधार पर ग्राउंड प्लस 20 से लेकर 24 फ्लोर तक रखी गई है। 5th एवेन्यू के हर टॉवर में मल्टी लेवल पार्किंग और पूरे प्रोजेक्ट में करीब 70 फीसदी एरिया ओपन रखा गया है।


5th एवेन्यू में ग्राहकों के जरूरत के मुताबिक मॉर्डन एमिनिटीज भी प्लान की गई हैं। 5th एवेन्यू में 1 से 4 टॉवर में 6667-7800 रुपये प्रति वर्गफुट का भाव है साथ ही पीएलसी, फ्लोर राइज, पार्किंग समेत अतिरिक्त खर्च अलग हैं। जनवरी 2016 में शुरू हुआ मर्लिन 5th एवेन्यू अभी स्ट्रक्चर की स्टेज पर है, निर्माण तेजी से जारी है। कंपनी इसे जून 2020 तक पूरा करने का लक्ष्य लेकर चल रही है।