Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

बेस मेटल में चौतरफा तेजी, क्या हो रणनीति

प्रकाशित Tue, 08, 2018 पर 12:24  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कच्चे तेल की तेजी टिक नहीं सकी है और ये पिछले 3.5 साल के ऊपरी स्तर से फिसल गया है। दरअसल अमेरिका ने ईरान पर पांबदी का फैसला 12 मई की जगह आज ही लेने जा रहा है। आज भारतीय समयानुसार रात करीब 11.30 बजे राष्ट्रपति ट्रंप इस बारे मे अपना फैसला सुनाएंगे। इससे पहले क्रूड कमजोर हो गया है। माना ये जा रहा है कि इस पाबंदी के बावजूद ईरान से मुश्किल से 5 लाख बैरल क्रूड की सप्लाई घटने का अनुमान है।


ईरान पर प्रतिबंध का क्या असर होगा अगर इसपर नजर डालें तो ईरान की क्रूड बिक्री में 20 फीसदी तक कटौती हो सकती है। यानि ईरान की रोजाना की क्रूड सप्लाई 3-5 लाख बैरल घट सकती है। फिलहाल ईरान का क्रूड एक्सपोर्ट 25 लाख बैरल रोजाना है। पाबंदी पूरी तरह से लागू होने में 6 महीने लग सकते हैं।


क्या है पूरा विवाद इस पर नजर डालें तो ईरान पर परमाणु समझौते के उल्लंघन करने और छिपकर अपने परमाणु कार्यक्रमों को जारी रखने का आरोप है। अमेरिका ईरान के मिसाइल कार्यक्रम के खिलाफ है। 2015 में अमेरिका-ईरान परमाणु समझौता हुआ था। समझौते के बाद ईरान को प्रतिबंधों में आंशिक रियायत दी गई थी। अब अमेरिका 2015 के ईरान परमाणु समझौते से हट सकता है और दोबारा आर्थिक प्रतिबंध लगा सकता है। ईरान मामले ट्रंप ने ट्वीट करके कहा है कि मैं मंगलवार दोपहर 02:00 बजे तक व्हाइट हाउस में बताऊंगा कि ईरान के साथ चल रहे हमारे परमाणु समझौते पर क्या फैसला होगा।


इस पर ओेनजीसी के पूर्व चेयरमैन आर एस शर्मा का कहना है कि इस इवेंट का भारत पर काफी बड़ा असर पड़ेगा क्योंकि भारत अपनी जरूरत का 83 फीसदी तेल आयात करता है। अगर अमेरिका आज ईरान पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा करता है तो क्रूड की कीमतें 80 डॉलर के पार जा सकती हैं जिससे भारत की इकोनॉमी पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।


अब बात रुपये की जहां आज फिर से कमजोरी बढ़ गई है। एक डॉलर की कीमत 67 रुपये के पार है और इसमें पंद्रह महीने के निचले स्तर पर कारोबार हो रहा है। सोने और चांदी में आज बेहद सुस्त कारोबार हो रहा है। इस बीच बेस मेटल में चौतरफा तेजी आई है। निकेल और जिंक में तेजी ज्यादा है। कॉपर समेत सभी मेटल चढ़े हैं। चीन की इकोनॉमी में सुधार से चीन में मांग बढ़ने का अनुमान है जिसका असर मेटल पर देखने को मिल रहा है।


उधर कमोडिटी एक्सचेंज एमसीएक्स इस महीने से 4 और कमोडिटी में ऑप्शंस शुरु करने जा रहा है। सेबी से एक्सचेंज को क्रूड, चांदी, कॉपर और जिंक में ऑप्शंस की इजाजत मिल चुकी है। जिसमें से कच्चे तेल में ऑप्शंस अगले हफ्ते से शुरू हो जाएगा।


रेलिगेयर कमोडिटीज की निवेश सलाह


एमसीएक्स सोना (जून वायदा): खरीदें - 31150, लक्ष्य - 31320, स्टॉपलॉस - 31050


एमसीएक्स चांदी (जुलाई वायदा): खरीदें - 39750, लक्ष्य - 40200, स्टॉपलॉस - 39480


एमसीएक्स लेड (जुलाई वायदा): खरीदें - 156.20, लक्ष्य - 158.50, स्टॉपलॉस - 154.80


एमसीएक्स नैचुरल गैस (मई वायदा): खरीदें - 184, लक्ष्य - 184, स्टॉपलॉस - 181


एमसीएक्स कॉपर (मई वायदा): खरीदें - 458.50, लक्ष्य - 464, स्टॉपलॉस - 455


एमसीएक्स कच्चा तेल (मई वायदा): खरीदें - 4665, लक्ष्य - 4735, स्टॉपलॉस - 4620