Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

घोटाले से बढ़ी दिक्कत, ज्वेलर्स की इमेज सुधारने की कवायद

प्रकाशित Sat, 12, 2018 पर 13:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नीरव मोदी घोटाले के बाद जेम्स और ज्वेलरी सेक्टर के सामने इमेज को सुधारना बड़ी चुनौती है इसलिए जेम्स एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल ने सरकार के सामने एक एक्शन प्लान रखा है ताकि  बैंकों का भरोसा ज्वेलर्स पर बहाल हो सके।


नीरव मोदी घोटाला ने ज्वेलर्स की साख पर कटघरे में डाल दिया नतीजा ये हुआ कि कारोबारियों को कर्ज देने में बैंक कतराने लगे लेकिन अब दिक्कतें दूर करने के लिए जेम्स एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल ने सरकार को सुझाव दिया है ताकि भरोसा फिर से बहाल हो और कारोबार पटरी पर लौटे।


ज्वलेर्स के सुझाव से वाणिज्य मंत्रालय उत्साहित है। सुरेश प्रभु ने भरोसा दिया है कि एक्शन प्लान को देखने के बाद वित्त मंत्रालय के साथ सलाह मशविरा किया जाएगा। ज्वेलर्स ने अपनी तरफ से तो बेहतरी का एक्शन प्लान सामने रख दिया है लेकिन बैंकों को अभी भी डर है।


जेम्स एंड ज्वेलरी सेक्टर 50 लाख लोगों को रोजगार देती है और रोजगार को बढ़ाने के लिए सेक्टर का मजबूत होना जरूरी है और इसके लिए पैसा आना जरूरी है। ऐसे में जेम्स एंड ज्वेलरी सेक्टर ने अपनी तरफ से तो पहल कर दी है अब देखना है कि बैंक और सरकार को ये बात कितनी पसंद आती है।