Moneycontrol » समाचार » क्रिकेट

आरोपों से भाग नहीं रहा हूं- सलमान बट्ट

प्रकाशित Tue, 08, 2011 पर 15:37  |  स्रोत : Hindi.in.com

08 फरवरी 2011
वार्ता

कराची।
स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में दस साल के लिए प्रतिबंधित किए गए पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट कप्तान सलमान बट्ट ने कहा है कि वह लंदन पुलिस द्वारा उनके खिलाफ लगाए गए आरोपों से भाग नहीं रहे हैं बल्कि वह इनका डटकर सामना करेंगे।

बट्ट फिक्सिंग में सजा पाने वाले पांचवें कप्तान बने

बट्ट ने कहा, मेरे पास छिपाने के लिए कुछ नहीं है और न ही मुझे भागने की जरूरत है। अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए अगर मुझे अदालत की शरण भी लेनी पड़ी तो मैं इसके लिए तैयार हूं। इसलिए यह कहना सरासर गलत है कि मैं लंदन नहीं जाउंगा। इंग्लैंड की शाही अभियोजन सेवा (सीपीएस) ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में बट्ट, मोहम्मद आसिफ और मोहम्मद आमेर को समन जारी कर उन्हें 17 मार्च को पेशी के लिए लंदन बुलाया है। इन खिलाड़ियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए हैं।

स्पॉट फिक्सिंग मामला: बट्ट, आसिफ और आमेर पर प्रतिबंध

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के भ्रष्टाचार रोधी पंचाट ने बट्ट को मैच फिक्सिंग का दोषी करार देते हुए दस वर्ष प्रतिबंध की सजा सुनाई है जिसमें पांच साल निलंबन के होंगे। बट्ट ने एक न्यूज चैनल से कहा, मैं आईसीसी पंचाट के फैसले से सहमत नहीं हूं और इसके खिलाफ अपील करूंगा। बट्ट ने उम्मीद जताई कि वह एक बार फिर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर वापसी करेंगे। उन्होंने कहा, जो कोई भी ऐसा कह रहा है कि मेरा जीवन समाप्त हो गया है वह गलत है। मैं अभी 26 वर्ष का हूं और अगर मुझपर से प्रतिबंध नहीं हटता है तब भी मैं 30 या 31 वर्ष में फिर से पाकिस्तान की तरफ से खेल सकूंगा। उसके बाद भी मेरे पास चार-पांच वर्ष खेलने का समय रहेगा।