Moneycontrol » समाचार » टैक्स

वेल्थ टैक्स पर टैक्स गुरु की राय

प्रकाशित Sat, 19, 2011 पर 12:48  |  स्रोत : Moneycontrol.com

19 फरवरी 2011

सीएनबीसी आवाज़


टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया
के मुताबिक 30 लाख रुपये से ज्यादा की आय पर 1 फीसदी की दर से वेल्थ टैक्स लगता है। वेल्थ टैक्स के तहत अचल संपत्ति, जमीन, गाड़ी और गहनों पर टै्क्स देना पड़ता है।



नकदी पर वेल्थ टैक्स



हर वित्तीय वर्ष 31 मार्च तक 50,000 रुपये की नकदी होने पर वेल्थ टैक्स लगता है।



अचल संपत्ति पर वेल्थ टैक्स



अगर करदाता के पास दो प्रॉपर्टी हो तो सिर्फ 1 पर वेल्थ टैक्स लगाया जाएगा। उदाहरण के लिए मकान और प्लॉट में से एक पर टैक्स छूट ली जा सकती है। शर्त ये है कि प्लॉट 500 गज से ज्यादा नहीं होना चाहिए।



इसके अलावा अगर आपके पास दो आवासीय प्रॉपर्टी हों तो 300 दिन से ज्यादा के लिए किराए पर दी गई प्रॉपर्टी पर वैल्थ टैक्स नहीं लिया जाएगा। किराए से मिली रकम को आय में जोड़ा जाएगा। टैक्स गुरु के मुताबिक कमर्शयिल प्रॉपर्टी पर वेल्थ टैक्स की देनदारी नहीं बनती है।



गहनों पर वेल्थ टैक्स



5 लाख रुपये से ज्यादा के गहनों पर वेल्थ टैक्स लगता है। वेल्थ टैक्स के लिए गहनों का मूल्यांकन कराना जरूरी है। सरकार द्वारा रजिस्टर्ड वैल्युअर से गहनों की कीमत निकलवानी चाहिए। रजिस्टर्ड वैल्युअर 4 सालों के लिए गहनों की कीमत निकालता है। 5 लाख रुपये से ज्यादा के गहनें होने पर फॉर्म 08 में जानकारी देनी पड़ती है। 



गहनों की कीमत 5 लाख रुपये से कम होने पर फॉर्म नंबर 08ए भरकर इसकी जानकारी देना जरुरी है। 5 लाख रुपये से कम के गहनों पर वेल्थ टैक्स नहीं लगता है। 


वीडियो देखें