Moneycontrol » समाचार » बीमा

जीवन की प्रमुख जरूरत है जीवन बीमा

प्रकाशित Sat, 23, 2011 पर 12:30  |  स्रोत : Moneycontrol.com

23 अप्रैल 2011

सीएनबीसी आवाज़



बदलते समय के साथ जीवन की आधारभूत जरूरतें भी बदल जाती है। आम मध्यमवर्गीय इंसान की जिंदगी की प्रमुख जरुरतों में भोजन, घर, वाहन के साथ जीवन बीमा को भी शामिल करना काफी आवश्यक हो गया है।



माईइंश्योरेंसक्लब के दीपक योहानन
के मुताबिक नौकरीपेशा लोगों को कंपनी द्वारा कराए गए ग्रुप इंश्योरेंस के अलावा अलग से इंश्योरेंस भी कराना चाहिए। अगर व्यक्ति नौकरी बदलता है तो इस सूरत में लाइफ इंश्योरेंस कवर खत्म होने का खतरा होता है। नौकरी छोड़ने पर कंपनी से ग्रुप इंश्योरेंस के तहत मिलने वाले सारे फायदे खत्म हो जाते हैं।



दीपक योहानन के मुताबिक सालाना आमदनी का 10-15 गुना ज्यादा लाइफ कवर वाला टर्म प्लान लेना चाहिए। आजकल अधिकांश नौकरीपेशा लोग होमलोन लेकर घर बनवाते या खरीदते हैं। होमलोन लिया है तो इसके लिए अलग से होमलोन टर्म इंश्योरेंस करवाना अच्छा विकल्प होता है।



50 लाख रुपये से ज्यादा के लाइफ कवर के लिए एलआईसी की अमूल्य जीवन की पॉलिसी ले सकते हैं। अगर कम प्रीमियम देकर लाइफ इंश्योरेंस चाहते हैं तो इसके लिए ऑनलाइन टर्म प्लान लें। ऑनलाइन टर्म प्लान में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल आई प्रोटेक्ट सबसे कम प्रीमियम पर पॉलिसी मुहैया कराती है।



सराकरी कंपनियों में एलआईसी अमूल्य जीवन और निजी कंपनियों में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के टर्म प्लान, अवीवा लाइफ शील्ड, एगॉन आई टर्म और मेटलाइफ प्रोटेक्ट के टर्म प्लान अच्छे हैं। प्रीमियम के आधार पर इनमें से अपनी पसंद का लाइफ इंश्योरेंस चुन सकते हैं।



टर्म प्लान के साथ अतिरिक्त राइडर जोड़ने से किसी आपातकालीन स्थिति से निपटने में मदद मिल सकती है। टर्म प्लान के साथ राइडर लेने पर कम अतिरिक्त प्रीमियम के बदले में ज्यादा फायदे मिल सकते हैं। एक्सीडेंटल डेथ बेनेफिट राइडर जोड़ने से दुर्घटना या अन्य कोई शारिरिक हानि होने की सूरत में बीमा कंपनियां कुल लाइफ कवर का दोगुना या 15-20 लाख रुपये अतिरिक्त कवर देती हैं।  



वीडियो देखें