इंश्योरेंस पॉलिसी पर सलाह -
Moneycontrol » समाचार » बीमा

इंश्योरेंस पॉलिसी पर सलाह

प्रकाशित Sat, 25, 2011 पर 12:23  |  स्रोत : Moneycontrol.com

25 जून 2011
सीएनबीसी आवाज़



आई-सेव डॉट कॉम के उप-संस्थापर अनिल सहगल बता रहे हैं कौन सा इश्योरेंस प्लान आपके लिए होगा सबसे बेहतर।


सवाल: मैंने साल 2002 में रॉयल सुंदरम में हेल्थ पॉलिसी ली थी। क्या मौजूदा पॉलिसी का हेल्थ कवर दोगुना किया जा सकता है, यदि हो सकता है तो इसके लिए क्या करना होगा?


अनिल सहगल: पॉलिसी की रीन्यु्अल के समय 100 फीसदी तक कवर बढ़ाने की सुविधा है, लेकिन इसके लिए पॉलिसी धारक की उम्र 45 साल से कम होनी चाहिए। 45 साल से अधिक उम्र के व्यक्ति को कवर बढ़ाने की सुविधा नहीं है। वहीं बढ़ा हुआ सम अश्योर्ड पहले की बीमारियों पर लागू नहीं होगा।


सवाल: मेरा साल 1998 में माइट्रन वॉल्व रिप्लेसमेंट(एमवीआर) हुआ था। इस वजह से कंपनियां हेल्थ और टर्म प्लान देने से इनकार कर रही है। इसके क्या कारण हैं ?


अनिल सहगल: एमवीआर जैसे गंभीर मामलों में कंपनियां कई बार हेल्थ या टर्म प्लान देने से बचती है। लेकिन ऐसा नहीं है कि एमवीआर के बाद कोई टर्म या हेल्थ प्लान नहीं लिया जा सकता, मौजूदा स्वास्थ्य को आधार पर प्लान मिल सकता है। कुछ शर्तों के आधार पर कंपनियां हेल्थ प्लान मुहैया करा सकती है। ज्यादा जानकारी के लिए किसी अच्छे सलाहकार की सलाह लें।


सवाल: मैं जिस कंपनी में काम करता हूं वहां से मेडिकल इंश्योरेंस मिला है, जिसका कवर 4 लाख रुपये है। क्या अलग से इंश्योरेंस प्लान लेना चाहिए ?


अनिल सहगल: कंपनी की ओर से मिला मेडिकल इंश्योरेंस जब तक आप कंपनी में काम करते हैं तब तक के लिए ही होता है। साथ ही एक ही पॉलिसी में पूरे परिवार के लिए कवर होता है। वहीं एक बार क्लेम करने पर परिवार के बाकी सदस्यों के लिए कवर की रकम कम जाती है। कंपनी से मिले मेडिकल इंश्योरेंस के अवाला दूसरी इंश्योरेंस प्लान लेना बेहद जरूरी। मैक्स बूपा फैमिली फर्स्ट प्लान सबसे बेहतर रहेगा।


वीडियो देखें