Moneycontrol » समाचार » निवेश

म्यूचुअल फंड पर हिरेंद्र धकान की सलाह

प्रकाशित Sat, 25, 2011 पर 13:44  |  स्रोत : Moneycontrol.com

21 जून 2011

सीएनबीसी आवाज़



बोनांजा पोर्टफोलियो के एसोसियेट फंड मैनेजर हिरेंद धकान के मुताबिक एसआईपी के जरिए म्यूचुअल फंड में निवेश करते समय डिफॉल्ट डेट का ख्याल रखना चाहिए। अगर आपने अपने फॉर्म में अपनी सुविधा के मुताबिक देय तिथि नहीं दी है तो अपने आप डिफॉल्ट तिथि पर एसआईपी का पैसा कट जाएगा।


पोर्टफोलियो पर सलाह-


हिरेंद धकान के मुताबिक अपने पोर्टफोलियो में लार्जकैप, स्मॉलकैप-मिडकैप और डाइवर्सिफाइड फंड का मिला-जुला संयोजन बनाएं तो समय के हिसाब से अनुमानित रिटर्न हासिल किया जा सकता है। डिविडेंड यील्ड फंड में निवेश के जरिए गिरते बाजार में भी स्थिर रिटर्न कमाए जा सकते हैं।


हिरेंद्र धकान के मुताबिक बिड़ला सनलाइफ डिविडेंड यील्ड और यूटीआई डिविडेंड यील्ड फंड निवेशकों को अच्छे रिटर्न दे सकता है।
10 साल में 30 लाख रुपये के लिए 11,000 रुपये हर महीने लगाने होंगे। इसके लिए मल्टीकैप फंड में रिलायंस ग्रोथ फंड और रिलायंस आरएसएफ फंड में निवेश किया जा सकता है। वहीं इक्विटी फंड में टाटा इक्विटी पीई फंड में निवेश करना भी अच्छा विकल्प हो सकता है।


25 साल में एसआईपी माध्यम से हर महीने 10,000 रुपये लगाए जाएं तो 10 फीसदी रिटर्न के हिसाब से 2 करोड़ रुपये का लक्ष्य हासिल किया जा सकता है।


हिरेंद्र धकान के मुताबिक एसआईपी माध्यम से निवेश करते समय ख्याल रखें कि साल-दो साल के प्रदर्शन के आधार पर फंड बदलने का फैसला ना करें। अगर सेक्टोरियल फंड में इंफ्रास्ट्रक्चर फंड में निवेश करना है तो 6-8 महीने के प्रदर्शन के आधार पर घबराएं नहीं। लंबी अवधि में इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टोरियल फंड में अच्छा रिटर्न मिल सकता है क्योंकि भारत में इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में नए प्रोजेक्ट आ रहे हैं और ग्रोथ की काफी उम्मीदें हैं।


20 साल बाद 30 लाख रुपये का लक्ष्य


20 साल बाद 30 लाख रुपये के लिए 3000 रुपये की एसआईपी की जाए तो 12 फीसदी रिटर्न के अनुमान से ये लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। जितला ज्यादा लंबा आपका नजरिया होगा उतना ही आपको कम पैसा निवेश करना होगा।


वीडियो देखे