Moneycontrol » समाचार » निवेश

म्यूचुअल फंड में निवेश के लिए टिप्स

प्रकाशित Sat, 23, 2011 पर 12:58  |  स्रोत : Moneycontrol.com

23 जुलाई 2011

सीएनबीसी आवाज़



रूंगटा सिक्योरिटीज के हर्षवर्धन रूंगटा बता रहे हैं कौन से म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहिए और किस फंड को अपने पोर्टफोलियो से करना चाहिए बाहर।


सवाल: मैं किसी शॉर्ट टर्म स्कीम में 1 से 2 लाख रुपये निवेश करना चाहता हूं। एफडी, एफएमपी और शॉर्ट टर्म डेट फंड में से किसमें निवेश करना चाहिए। वहीं निवेश से मिलने वाली रकम पर टैक्स ना पड़े ?


हर्षवर्धन रूंगटा: यदि 1 साल से कम अवधि तक निवेश करने का नजारिया है तो शॉर्ट टर्म डेट फंड में पैसा लगाएं। वहीं निवेश की अवधि 1 साल या इससे अधिक है तो फिक्स मैच्यूरिटी प्लान(एफएमपी) में निवेश करना बेहतर रहेगा। 1 साल से कम की अवधि पर निवेश से मिलने वाली रकम पर टैक्स नहीं देना होगा। हालांकि निवेश को 1 साल पूरा होने के बाद हासिल होने वाले फायदे को शॉर्ट टर्म कैपिटल गेम माना जाएगा, जिसपर टैक्स चुकाना होता है।


सवाल: मेरे पास एचडीएफसी, बिड़ला, आईसीआईसीआई, रिलायंस, यूटीआई, एसबीआई और टाटा के कुल 16 फंड्स हैं। पोर्टफोलियो में इतने फंड रखना क्या ठीक रहेगा। वहीं इन फंड्स के माध्यम से सालाना 1.5 लाख रुपये का रिटर्न चाहता हूं, क्या ये मुमकिन हो सकता है ?


हर्षवर्धन रूंगटा: एक अच्छे पोर्टफोलियो में कम से कम 5 और अधिक से अधिक 7 फंड्स होने चाहिए। 16 फंड्स को ठीक तरीके के मैनेज करना आसान नहीं होगा। बिड़ला के सभी फंड्स से पैसा निकालकर बिड़ला फ्रंटलाइन इक्विटी फंड में लगाना चाहिए। वहीं एचडीएफसी फंड से निकलकर एचडीएफसी प्रूडेंट में निवेश करें, आईसीआईसीआई डायनामिक फंड में बने रहें। इसके अलावा यूटीआई के सभी फंड्स से निकलकर यूटीआई डिवीडेंड यील्ड फंड में पैसा लगाएं। एसबीआई और टाटा में किया गया निवेश बंद करके यूटीआई डिविडेंड यील्ड में पैसा लगाना बेहतर रहेगा। इन सभी फंड्स से हर साल 1.5 लाख रुपये का रिटर्न हासिल करना निवेश क्षमता और बाजार के उतार-चढ़ाव पर निर्भर करता है।


सवाल: मेरी उम्र 29 साल है और मुझे भविष्य में बच्चे की पढ़ाई के लिए 20 साल बाद 20 लाख रुपये और 25 साल बाद बच्चे की शादी और अपने रिटायरमेंट के लिए 80 लाख से 1 करोड़ रुपये की जरूरत होगी। 5 हजार रुपये प्रति महीने की एसआईपी के हिसाब से क्या इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है ?


हर्षवर्धन रूंगटा: 5 हजार रुपये प्रति महीने की एसआईपी के हिसाब से 20 साल बाद 65 लाख रुपये तक जुटा सकते हैं। 65 लाख रुपये की रकम में से 20 लाख रुपये बच्चे की पढ़ाई के लिए निकालकर बाकी 45 लाख रुपये के साथ 5000 रुपये प्रति महीने की एसआईपी जारी रखें। इस तरीके से निवेश करने से 25 साल बाद 94.5 लाख रुपये तक जुटा सकेंगे, जोकि आपके 1 करोड़ रुपये के लक्ष्य के बेहद करीब होगा। वहीं लक्ष्य की सीमा तय करते समय मंहगाई का ध्यान रखें।


वीडियो देखें