फाइनेंशियल प्लानिंग पर सलाह -
Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

फाइनेंशियल प्लानिंग पर सलाह

प्रकाशित Sat, 30, 2011 पर 11:55  |  स्रोत : Moneycontrol.com

30 जुलाई 2011

सीएनबीसी आवाज़



फ्रीडम फाइनेंशियल प्लानर के सीईओ सुमित वैद बता रहे हैं कि कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग ताकि निर्माण हो सके एक सुरक्षित भविष्य का।


सवाल: मुझे घर खरीदने, बेटे की पढ़ाई और रिटायरमेंट के लिए किस तरह निवेश करना चाहिए। साथ ही कौन सी पॉलिसी और फंड्स लेना बेहतर रहेगा ?


सुमित वैद: फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए सबसे पहले इमरजेंसी फंड्स में पैसा लगाएं। साथ ही करीब 6 महीने की सैलरी बैंक खाते में अलग जमा रखें, ताकि किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए तैयार हो सकें। सालाना आय है 10 गुना का इंश्योरेंस कवर ले खुद के साथ-साथ परिवार के अन्य सदस्यों का भी कवर हो। आईसीआईसी की आई-प्रोटेक्ट और बजाज इंश्योरेंस हेल्थ पॉलिसी काफी अच्छी रहेगी।


सवाल: एचडीएफसी यंग स्टार पॉलिसी में रिटर्न ठीक नहीं मिल रहा है। पॉलिसी का लॉक इन पूरा हो चुका है। पॉलिसी में बने रहे या निकल जाएं ?


सुमित वैद: एचडीएफसी यंग स्टार पॉलिसी का चार्ज काफी ज्यादा है। लॉक इन पीरियड पूरा हो गया तो पॉलिसी से निकल जाना बेहतर रहेगा। लॉक इन पूरा होने के बाद पॉलिसी में सरेंडर चार्ज नहीं भरना होगा। हालांकि की इंश्योरेंस को निवेश के नजरिए से ना देखना ही बेहतर रहता है।


सवाल: मैं एचडीएफसी इक्विटी ग्रोथ, आईडीएफसी प्रीमियर इक्विटी, कैनरा रोबेको, रिलायंस एमआईपी, बिड़ला एसएल 95 बैलेंस्ड फंड में निवेश कर रहा हूं। ये फंड्स कैसे हैं क्या किसी फंड को पोर्टफोलियो से निकालना चाहिए ?


सुमित वैद: रिलायंस एमआईपी और बिड़ला एसएल 95 बैलेंस्ड फंड से निकल जाएं। इस फंड में कुछ खास रिटर्न नहीं मिल रहा है। वहीं बिड़ला एसएल डायनामिक प्लान, आईसीआईसीआई फोकस्ड फंड और डीएसपी इक्विटी फंड में निवेश कर सकते हैं।


वीडियो देखें