शॉर्ट टर्म कैपिटल लॉस-गेन पर टैक्स गुरू की सलाह -
Moneycontrol » समाचार » टैक्स

शॉर्ट टर्म कैपिटल लॉस-गेन पर टैक्स गुरू की सलाह

प्रकाशित Sat, 27, 2011 पर 14:07  |  स्रोत : Moneycontrol.com

27 अगस्त 2011

सीएनबीसी आवाज़

टैक्स गुरू सुभाष लखोटिया के मुताबिक बाजार के उतार-चढ़ाव के चलते अगर आपको घाटा हो जाता है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। छोटी अवधि में होने वाले शॉर्ट टर्म कैपिटल लॉस पर टैक्स नहीं लगता है।

वहीं अगर 1 साल से ज्यादा समय तक शेयर अपने पास रखने के बाद हालिया गिरावट में नुकसान पर बेचें तो शेयर सस्ते में बेचने के घाटे के साथ लॉन्ग टर्म कैपिटल लॉस भी होगा जो टैक्स के दायरे में आता है।

सुभाष लखोटिया का कहना है कि 1 साल में हुए शॉर्ट टर्म कैपिटल लॉस और शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन को एडजस्ट कर सकते हैं। इसके लिए जरूरी नहीं कि आपको स्क्रिपवाइज लॉस और गेन एडजस्ट करना पड़ेगा। उदाहरण के लिए एक साल के कुछ महीनों में शेयरों की खरीद-फरोख्त से फायदा हुआ और कुछ महीनों में शेयरों से घाटा हुआ तो इसे ऐवरेज करके ही इसपर टैक्स की देनदारी तय की जाएगी।



ई-रिटर्न में गलती का समाधानः

टैक्स गुरू का कहना है कि अगर ई-रिटर्न भरा है और कोई गलती होने के चलते आपको इसे रिवाइज करने की जरूरत है लेकिन ई-ऑप्शन में ऐसा नहीं हो पा रहा है तो देर ना करें। आयकर विभाग आपको रिटर्न गलत फाइल ना करने का आरोप लगाए इससे पहले ही कागजी दस्तावेज के जरिए रिटर्न फाइल कर दें।

भाई से उपहार में मिली रकम पर टैक्सः

अगर शादीशुदा बहन को अपने भाई से उपहार की रकम मिलती है और इसे एफडी में रखा जाता है तो एफडी से आनेवाली आय को बहन के पति की आय के साथ जोड़ा नहीं जाएगा। इस तरह क्लबिंग ऑफ इंकम ना होने के चलते टैक्स बचने का फायदा होगा।



पुश्तैनी जमीन बेचने पर कैसे लगेगा टैक्सः

अगर आप पुश्तैनी जमीन बेचते हैं और ये कृषि की जमीन है तो इसे बेचने पर कैपिटल गेन टैक्स नहीं लगेगा लेकिन शहरी जमीन बेचने पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स देना होगा। अगर पुरानी जमीन बेचते हैं तो इसे बेचने पर मिली रकम में से कॉस्ट निकालकर बची धनराशि पर 20 फीसदी की दर से कैपिटल गेन टैक्स देना होगा। हालांकि अगर पुरानी जमीन बेचकर कृषि जमीन ही खरीदें तो कैपिटल गेन नहीं लगेगा। साथ ही घर खरीदने में निवेश करते हैं तो भी टैक्स नहीं लगेगा।



वीडियो देखें