Moneycontrol » समाचार » बीमा

इंश्योरेंस से जुड़ी उलझनों का हल

प्रकाशित Sat, 03, 2011 पर 10:22  |  स्रोत : Moneycontrol.com

3 सितंबर 2011

सीएनबीसी आवाज़



माय इंश्योरेंस क्लब डॉटकॉम के वाइस प्रेसीडेंट मनोज असवानी बता रहे हैं कौन सा इंश्योरेंस प्लान लेना होगा सबसे बेहतर ताकि भविष्य में बोने वाली अप्रिय घटनाओं का कर सकें सामना।


सवाल: मैं इंश्योरेंस और निवेश दोनों का लक्ष्य रखता हूं। और इस लक्ष्य की पूर्ति के लिए एसबीआई मनी बैक प्लान खरीदना चाहता हूं। यह प्लान कैसा रहेगा?


मनोज असवानी: एसबीआई मनी बैक प्लान यह एक साधारण और परंपरागत प्लान है। इसमें ज्यादा रिटर्न की उम्मीद नहीं की जा सकती है। वहीं इंश्योरेंस और इंवेस्टमेंट को एक साथ नहीं जोड़ना चाहिए। इश्योरेंस के लिए अलग प्लान रखें जिसमें रिस्क कवर हो सके। वहीं निवेश का नजारिया है तो एफडी और म्यूचुअल फंड में पैसा लगा सकते हैं जहां से बेहतर रिटर्न मिलेगा।


सवाल: मेरा 3 साल का बेटा है उसको जन्म के साथ ही दिल की बीमारी है। दिल की बीमारी को कवर करने के लिए कोई भी इंश्योरेंस कंपनी हेल्थ पॉलिसी देने को तैयार नहीं है, क्या करूं?


मनोज असवानी: कोई भी इंश्योरेंस पॉलिसी पहले से मौजूद बीमारी को कवर नहीं करती है। लेकिन आपके बेटे की बीमारी जन्म के साथ है ऐसी स्थिति में इंश्योरेंस कंपनियां रिस्क कवर देती हैं। हालांकि इसके लिए 3-4 साल का इंतजार करना होता है। कंपनी को बीमारी के बारे में विस्तार से जानकारी दें। पॉलिसी मिलने के 3-4 साल का समय बीतने के बाद रिस्क कवर मिलना शुरू हो जाएगा।


सवाल: मैं पिता के लिए स्टार हेल्थ का रेड कारपेट प्लान में 2 लाख का कवर और बजाज अलियांज के सिल्वर हेल्थ प्लान में 3 लाख का कवर लेना चाहता हूं। पिताजी की उम्र 61 साल है। क्या ये प्लान लेना ठीक रहेगा।


मनोज असवानी: दो इंश्योरेंस कंपनियो से हेल्थ प्लान लेना सही नहीं रहेगा। क्योंकि एक ही बिल को 2 जहग क्लेम नहीं किया जा सकता है। साथ ही हेल्थ प्लान एक ही रखना बेहतर होता है। स्टार हेल्थ का रेड कारपेट प्लान लेना सही रहेगा। यदि इसके अलावा और कवर की आवश्यकता लगती है तो एलआईसी का हेल्थ प्लान ले सकते हैं।


वीडियो देखें