Moneycontrol » समाचार » निवेश

फाइनेंशियल प्लानर को ना समझें सेल्स एजेंट

प्रकाशित Fri, 07, 2011 पर 13:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

moneycontrol.com



आपके वित्तीय जरूरतों का ख्याल रखने के लिए वित्तीय सलाहकार का होना बेहद जरूरी है। वित्तीय सलाहकार की बदौलत ही आप सही निवेश का निर्णय ले सकते हैं। लेकिन निवेश की सोच रहें तो सेल्स एजेंट या मार्केटिंग एजेंट पर भरोसा ना करें।



माना जाता है कि सेल्स एजेंट की सलाह हमेशा बाजार से परे होती है। दरअसल सेल्स एजेंट को उत्पाद बेचने पर कमीशन मिलता है जिसके लिए गलत धारणाओं के साथ उत्पाद की बिक्री की जाती है। देखा गया है कि बीमा उत्पाद को बेचने के लिए गलत अवधारणाओं का सहारा लिया जाता है। बीमा बेचनेवाले एजेंट ग्राहकों को यूनिट लिंक्ड प्लान की सही जानकारी भी नहीं देते हैं। सेल्स एजेंट से किसी उत्पाद की पूरी सही जानकारी हासिल करना बेहद मुश्किल होता है। ग्राहकों को हिडेन चार्ज से भी अनभिज्ञ रखा जाता है।



फाइनेंशियल प्लानिंग जिंदगी की एक अहम जरुरत बन चुकी है। फिर भी कई लोग फाइनेंशियल प्लानिंग से पीछा छुड़ाते हैं। फाइनेंशियल प्लानिंग की शुरुआत पैसों की बचत से होती है। फाइनेंशियल प्लानिंग के जरिए ही आपको पता चलता है कि आपको कहां निवेश करना और कहां गैरजरूरी खर्चों को कम करना है। इन सभी कामों को पूरा करने के लिए आपको वित्तीय सलाहकार की जरुरत होती है।



लेकिन वित्तीय सलाहकरा का केवल भरोसेमंद होना ही काफी नहीं है। क्या आपके वित्तीय सलाहकार को सबसे बेहतर निवेश, बचत विकल्पों के उत्पादों की जानकारी है? इसके साथ ही उसे इस काबिल भी होना चाहिए कि वो आपको सबसे बढ़िया सलाह दे सके। आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि क्या आपका वित्तीय सलाहकार सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर का कोर्स कर चुका है, इसके अलावा निरंतर अध्य्यन और रिसर्च के बारे में उसका क्या ख्याल है। याद रखें, अगर आपके वित्तीय सलाहकार को मौजूदा आर्थिक डेवलपमेंट और परिवर्तनों के बारे में जानकारी नहीं है तो आपको ही इसके नुकसान झेलने पड़ सकते हैं।



यह लेख रुपीटॉकडॉटकॉम से साभार लिया गया है।