Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

फाइनेंशियल प्लानिंग: खुशहाल जीवन का सरल माध्यम

प्रकाशित Mon, 23, 2012 पर 12:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जीवन में फाइनेंशियल प्लानिंग का बड़ा महत्व है। सही प्लानिंग जीवन के उतार-चढ़ावों और लक्ष्यों पर जीत हासिल करने का सही माध्यम होती है। वहीं पर्याप्त नकदी पास में होते हुए सही निवेश नीति ना बना पाने के कारण भविष्य में कई बार पछताना भी पड़ जाता है। ऐसे में आय चाहे कम हो या ज्यादा इसके खर्च और निवेश के लिए सही रणनीति तैयार करना बेहद जरूरी होता है। ताकि भविष्य की वित्त जरूरतों के लिए भटकना ना पड़े।


लोकप्रिय प्लानेंशियल प्लानर गौरव मशरुवाला बता रहे हैं कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग ताकि भविष्य की वित्त जरूरतों को पूरा करने में यह प्लानिंग मददगार साबित हो सके।


सवाल: मेरी उम्र 40 साल है, वहीं सालाना आय 15 लाख रुपये है। घर खर्च 40 हजार रुपये और होमलोन की ईएमआई 3,500 रुपये प्रति माह है, साथ ही बचत खाते में 16 लाख रुपये हैं। वहीं 75 लाख रुपये कवर वाला टर्म प्लान है। इसके अलावा एलआईसी प्रॉफिट प्लस में 1 लाख रुपये, आईसीआईसीआई एक्सिडेंटल डेथ एंड पर्मानेंट डिस्एबिलिटी पॉलिसी में 23,000 रुपये, आईसीआईसी लम्बार्ड क्रिस्टीकल इलनेस में 7,000 रुपये भर रहा हूं। साथ ही करीब 18 हजार रुपये प्रति महीने की एसआईपी भी कर रहा हूं। यह प्लानिंग कैसी है, क्या इसमें कोई बदलाव करने की जरूरत है?


गौरव मशरुवाला: 16 लाख रुपये बचत खाते में जमा रखना सही नहीं है। 3 महीने के घर खर्च के बराबर का इमरजेंसी फंड बनाकर बाकी की रकम फिक्स्ड डिपॉजिट में रखें। साथ ही पूरे परिवार के लिए हेल्थ कवर लेना भी जरूरी है। होमलोन की ईएमआई भरने से अच्छा है कि बचत खाते की नकद रकम से होमलोन चुकता कर दें। इससे होमलोन पर लगनेवाले ब्याज की बचत होगी। वहीं बाकी बचें पैसों को म्यूचुअल फंड अथवा पीपीएफ जरिए जमा करना भी एक सही विकल्प रहेगा।


सवाल: मेरी सालाना आय 9 लाख रुपये है। मैं अविवा धनश्री पॉलिसी में 5,000 रुपये प्रति महीने, एलआईसी बीमा गोल्ज में 50,000 रुपये सालाना, एचडीएफसी यंग स्टार में 3,000 रुपये प्रति महीने, एसडीएफसी संपूर्ण वृद्धि में 2,000 रुपये प्रति माह निवेश कर रहा हूं। इसके अलावा एलआईसी मार्केट प्लस में 83,000 रुपये एकमुश्त भरे हैं। मैं साल 2015 में 7 लाख रुपये कार खरीदने के लिए चाहता जुटाना हूं। वहीं  रिटायमेंट के लिए 1 करोड़ रुपये और बच्चे की पढ़ाई के लिए 50-75 रुपये भी जमा करने हैं। हर साल 60,000 रुपये निवेश कर सकता हूं। कैसे प्लानिंग करूं?


गौरव मशरुवाला: टैक्स सेविंग, निवेश और इश्योरेंस तीनों ही चीजों के लिए नजारिया रखें। इन्हें आपस में नहीं मिलाना चाहिए। वहीं सबसे पहले करीब 3 घर खर्चे के बराबर की रकम इमरजेंसी फंड में रखें। वहीं परिवार की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए करीब 1.25-1.5 करोड़ रुपये कवर वाला टर्म प्लान लेना चाहिए। पॉलिसी और फंड मैच्युर्ड होने पर रकम का इस्तेमाल 2015 में कार खरीदने के लिए करें। वहीं सालाना 60 हजार रुपये की रकम को 80 फीसदी इक्विटी और 20 फीसदी डेट फंड में निवेश करना सही रहेगा।


वीडियो देखें