Moneycontrol » समाचार » टैक्स

जानिए टैक्स बचत पर सुझाव

प्रकाशित Sat, 18, 2012 पर 12:33  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स गुरू सुभाष लखोटिया जी से जानिए टैक्स की बारीकियां और टैक्स से जुड़ी उलझनों पर सुझाव -


सवाल : क्या एचआरए (मकान किराया भत्ता) को लेकर इनकम टैक्स कानून में कुछ बदलाव हुए है?


सुभाष लखोटिया :  एचआरए पर टैक्स छूट के नियम में कोई बदलाव नहीं हुए है। लेकिन मकान मालिक को किराया देने का नियम बदला है। वेतनभोगी कर्मचारी अपने एचआरए राशी से 1.80 लाख रुपये से ज्यादा किराए देते है, उन्हें मकान मालिक का पॅन नंबर देना जरूरी है।      


सवाल : सालाना 5.5 लाख रुपये तनख्वाह है। हर महीने 7400 रुपये होमलोन, 9600 रुपये एनजीओ और 2500 रुपये सलाना इंश्योरेंस प्रीमियम भरता हूं और कहां निवेश करें?  
  
सुभाष लखोटिया : होमलोन ब्याज पर आपको सालाना 1.50 लाख रुपये तक की छूट मिल सकती है। वहीं होमलोन रिपेमेंट और इंश्योरेंस प्रीमियम पर सेक्शन 80सी के तहत 1 लाख रुपये तक की छूट मिल सकती है। चैरिटी में दान देने पर आप इनकम के 10 फीसदी रकम पर 50 फीसदी तक की टैक्स छूट पा सकते हैं। इंफ्रास्ट्रक्चर बॉन्ड में 20,000 रुपये निवेश पर आपको सेक्शन 80सीसीएफ के तहत छूट का फायदा मिल सकता है।       


सवाल : बहन की कॉलेज की टयूशन फीस भरने पर क्या टैक्स छूट मिल सकती है और क्या इलाज पर किए गए खर्च पर टैक्स लग सकता है?    


सुभाष लखोटिया : बहन की टयूशन फीस भरने पर आपको टैक्स छूट का फायदा नहीं मिलेगा। सिर्फ अपने दो बच्चों की टयूशन फीस पर आपको टैक्स छूट मिल सकती है।

आईटी कानून में बिना ब्योरे का खर्च इनकम माना जाता है। सेक्शन 69सी के तहत इलाज खर्च को इनकम माना जाता है। 
 
सवाल : सालाना 1.20 लाख रुपये पीएफ में और 55,000 रुपये इंश्योरेंस प्रीमियम देता हूं। क्या इस पर छूट मिलेगी और इंफ्रास्ट्रक्चर बॉन्ड पर सलाह दें।  
 
सुभाष लखोटिया : सेक्शन 80सी के तहत आपको पीएफ और इंश्योरेंस प्रीमियम मिलाकर कुल 1 लाख रुपये तक की छूट मिल सकती है। वहीं सेक्शन 80सीसीएफ के तहत आप इंफ्रास्ट्रक्चर बॉन्ड में 20,000 रुपये तक के निवेश पर टैक्स छूट का फायदा ले सकते हैं।  


सवाल : पत्नी के साथ ज्वाइंट फ्लैट है। क्या पत्नी घर के लिए किराया ले सकती हैं और क्या पति को इस पर एचआरए छूट मिलेगी?


सुभाष लखोटिया : पति अपनी पती को किराया दे सकता है। किराए की रकम पर पति को एचआरए की छूट मिल सकती है और पत्नी को होमलोन के ब्याज पर टैक्स छूट मिल सकता है। लोन के ब्याज पर टैक्स छूट की कोई ऊपरी सीमा नहीं है।


सवाल : 31 मार्च 2011 को चेक मिला जो कि अकाउंट में अप्रैल में आया। इस रकम को किस वित्तवर्ष में जोड़कर टैक्स देना होगा? साथ ही मां को फैमिली पेंशन मिलती है। 2006-2010 का बकाया पेंशन मार्च-जुलाई 2011 में मिला है, क्या मां को सेक्शन 89 के तहत छूट मिल सकती है?   


सुभाष लखोटिया : मर्केटाइल सिस्टम ऑफ अकाउंटिंग में रकम 31 मार्च को खत्म हुए वित्तवर्ष में जुड़ेगी। वहीं कैश सिस्टम ऑफ अकाउंटिंग में रकम अगले वित्तवर्ष की इनकम में जुड़ेगी। सेक्शन 89 के तहत आपको टैक्स छूट फैमिली पेंशन पर नहीं बल्कि सिर्फ सैलरी इनकम पर मिलेगी। आप सेक्शन 80सी-80सीसीएफ के तहत निवेश कर टैक्स बचत कर सकते हैं।


सवाल : पुश्तैनी जमीन में बहन के साथ पार्टनर हूं। अगर बहन अपना हिस्सा मुझे गिफ्ट करती है, तो क्या इस पर टैक्स देना होगा?


सुभाष लखोटिया : अगर कोई भी गिफ्ट रिश्तेदार से नहीं मिल रहा है, तो टैक्स लगेगा। सेक्शन 56 के मुताबिक चचेरी बहन रिश्तेदार नहीं कहलाती, इसलिए चचेरी बहन से गिफ्ट लेने पर टैक्स लग सकता है।


सवाल : पत्नी का एज्युकेशन लोन चुका रहा हूं। क्या मुझे इस लोन पर छूट मिल सकती है?   


सुभाष लखोटिया : पत्नी के एज्युकेशन लोन के ब्याज पर पति को टैक्स छूट नहीं मिलती है। सेक्शन 80ई के तहत टैक्स छूट अपने या रिशेदार के लोन पर ही मिल सकती है। आपको लोन रिपेमेंट पर छूट नहीं मिलेगी।     



वीडियो देखें