Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

सही प्लानिंग से दें परिवार को वित्तीय सुरक्षा

प्रकाशित Tue, 15, 2012 पर 11:16  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अपना जीवन स्तर बेहतर बनाने के लिए और परिवार का भविष्य सुरक्षित बनाने के लिए जरूरत होती है फाइनेंशियल प्लानिंग की। लेकिन कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग जानते हैं सीआईईएल की एमडी उमा शशिकांत और सफल निवेशक डॉट कॉम के विशाल खंडेलवाल की राय


सीआईईएल की एमडी उमा शशिकांत का कहना है कि किसी भी समस्या या किसी भी जरुरत या लक्ष्य को पूरा करने के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग करना बेहद जरूरी है। फाइनेंशियल प्लानिंग के जरिए हम अपने और अपने परिवार के भविष्य को सुरक्षित रख सकते हैं। फाइनेंशियल प्लानिंग करके हम बढ़ती महंगाई के बोझ से राहत पा सकते हैं और इमरजेंसी खर्च का इंतजाम कर सकते हैं।


सही ढंग से प्लानिंग करके बड़े खर्चे के लिए जरूरी रकम जुटा सकते हैं और बढ़िया लाइफस्टाइल हासिल कर सकते हैं। सही प्लानिंग से बच्चों की पढ़ाई, उच्च शिक्षा, शादी, कार, घर खरीदना जैसे अलग-अलग वित्तीय लक्ष्यों को पूरा कर सकते हैं।


उमा शशिकांत के मुताबिक व्यक्ति को अपने आय के मुताबिक लक्ष्य तय करना चाहिए लेकिन तय किया हुआ लक्ष्य व्यावहारिक होना जरूरी है। और ध्यान रखना चाहिए कि हर लक्ष्य के लिए कितना निवेश जरूरी है। हर लक्ष्य के लिए अलग और नियमित निवेश करें, जितनी जल्दी हो सके निवेश शुरु करें। साल में एक बार जरूर अपने पोर्टफोलियो की समीक्षा करें। जरुरत पड़ने पर पोर्टफोलियो में बदलाव करें।


सफल निवेशक डॉट कॉम के विशाल खंडेलवाल का कहना है कि फाइनेंशियल प्लानिंग में कुछ पहलुओं का ध्यान रखना जरूरी है। सबसे पहले हर व्यक्ति को अपना खर्चा अपनी इनकम से कम रखना है। अपने इनकम और खर्चों का हिसाब रखना चाहिए। स्वयं को नियमित तौर पर बचत की आदत डालनी चाहिए। अपना वित्तीय लक्ष्य तय करके हर महीने निवेश करना चाहिए। इसके लिए आप अच्छे वित्तीय सलाहकार की मदद ले सकते हैं।   


विशाल खंडेलवाल के मुताबिक हर व्यक्ति को एक इमरजेंसी फंड बनाना चाहिए। लेकिन  इमरजेंसी फंड 6-8 महीने के खर्च के बराबर होना चाहिए। साथ ही हर व्यक्ति के पास एक मेडिकल पॉलिसी और टर्म प्लान भी होना जरूरी है। इसके अलावा हर व्यक्ति को अपना वसीयत नामा लिखना चाहिए। ताकि अर्निंग मेंबर की मृत्यू होने पर आश्रित व्यक्तियों को पैसा क्लेम करने में दिक्कतों का सामना ना करना पड़े। अपने फाइनेंशियल प्लान की नियमित रुप से समीक्षा करनी चाहिए।


वीडियो देखें