Moneycontrol » समाचार » बीमा

इंश्योरेंस की समस्याओं से जुड़े सवाल-जवाब

प्रकाशित Sat, 09, 2012 पर 12:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पॉलिसीबाजार डॉट कॉम के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर अक्षय मेहरोत्रा बता रहे हैं कैसे चुने सही इंश्योरेंस पॉलिसी ताकि आपकी जरूरतों की आसानी से पूर्ति हो सके।


सवाल: एलआईसी की मार्केट प्लस पॉलिसी कैसी है। मैं इसमें 3 साल में 1.5 लाख रुपये प्रीमियम दे चुका हूं। लेकिन पॉलिसी की वैल्यु काफी कम है। क्या पॉलिसी से निकलना सही रहेगा?


अक्षय मेहरोत्रा: एलआईसी मार्केट प्लस पॉलिसी काफी बेहतर पॉलिसी है। यह एक यूलिप प्लान है, जिसके शुरुआती समय में चार्ज ज्यादा लगता है। लेकिन लंबी अवधि में यह अच्छा रिटर्न देती है। किसी भी यूलिप प्लान ने लंबी अवधि के नजरिए की आवश्यकता होती है। वहीं इस पॉलिसी में कोई सरेंडर चार्ज नहीं लगता है, ऐसे में पॉलिसी से निकलने का विकल्प काफी आसान है। हालांकि पॉलिसी में लंबी अवधि के लिए बने रहना ज्यादा बेहतर रहेगा।


सवाल: ऑनलाइन और एजेंट के जरिए ली जाने वाली पॉलिसी में क्या अंतर होता है। क्या ऑनलाइन पॉलिसी लेने पर क्लेम सेटलमेंट में कोई दिक्कत आती है?


अक्षय मेहरोत्रा: ऑनलाइन और एजेंट के जरिए ली जानेवाली इश्योरेंस पॉलिसी में कोई अंतर नहीं होता है। दोनों ही पॉलिसी में समान सुविधाएं होती है। हालांकि ऑनलाइन प्लान एजेंट के जरिए लिए जाने वाले प्लान से सस्ते होते हैं। इसके अलावा पॉलिसी लेते समय अपनी संपूर्ण जानकारी देना चाहिए तो पॉलिसी के क्लेम से परेशानी नहीं आती है।


सवाल: मेरी उम्र 24 साल है, मेरे पास एलआईसी जीवन आनंद और एसबीआई लाइफ महा आनंद पॉलिसी ली है। दोनों की पॉलिसी में 22,208 रुपये का प्रीमियम भर रहा हूं। दोनों पॉलिसी में निवेश कर नजारिया है यह पॉलिसी है?


अक्षय मेहरोत्रा: दोनों की पॉलिसी बेहतर है, इसमें बने रहना चाहिए। लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न मिल सकता है। हालांकि इंश्योरेंस में निवेश का नजरिया नहीं होना चाहिए। एसबीआई महा आनंद में आंशिक रूप से पैसा निकालने का विकल्प होता है साथ ही अतिरिक्त राइडर का विकल्प भी होता है।


वीडियो देखें