Moneycontrol » समाचार » बीमा

इंश्योरेंस की दिक्कतों से पाइए छुटकारा

प्रकाशित Sat, 07, 2012 पर 08:53  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पॉलिसीबाजार डॉट कॉम के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर अक्षय मेहरोत्रा बता रहे हैं कि कैसे मिलेगा इंश्योरेंस प्लान लेने में होने वाली परेशानियों से छुटकारा।


सवाल: मेरी उम्र 33 साल और वेतन 5-6 लाख रुपये सालाना है। मैं एफडीएफसी का यंग स्टार सुपर प्रीमियम प्लान लेना चाहता हूं, यह प्लान कैसा है?


जवाब: एफडीएफसी का यंग स्टार सुपर प्रीमियम प्लान काफी अच्छा प्लान है। चाइल्ड प्लान का सबसे बड़ा फायदा यह है कि माता-पिता को कुछ हो जाने के बाद भी पॉलिसी का प्रीमियम रुकता नहीं है और ये इंश्योरेंस कंपवनी की ओर से भरा जाता है। वहीं इस प्लान ने प्रीमियम का 40 गुना तक का कवर मिलता है। हालांकि शुरुआती 7 साल तक चार्ज काफी ज्यादा लेकिन सुविधाओं के मद्देनजर चाइल्ड प्लान के रूप में एफडीएफसी का यंग स्टार सुपर प्रीमियम प्लान काफी बेहतर है।


सवाल: मेरी उम्र 25 साल है और सालाना वेतन 7 लाख रुपये है। मेरे पास 40 लाख रुपये कवर के एक टर्म प्लान है। लेकिन इसे बढ़ाकर 1 करोड़ रुपये तक करना चाहता हूं। निजी इंश्योरेंस कंपनी से टर्म प्लान लूं या फिर एलआईसी का प्लान लेना सही रहेगा?


जवाब: 25 साल की उम्र में आप इतनी रकम के टर्म प्लान के बारे में सोच रहे हैं यह काफी सराहनीय है। वहीं सालाना आय का 10-12 गुना की रकम का टर्म प्लान लेना चाहिए। ऑनलॉइन टर्म प्लान लें जिसका प्रीमियम काफी कम पड़ेगा।


सवाल: मेरी उम्र 30 साल और पत्नी की उम्र 28 साल है। साथ ही एक 2 साल का बच्चा भी है। मैं 3 लाख रुपये के कवर वाला हेल्थ प्लान लेना चाहता हूं। मैक्स बूपा या अपोलो म्यूनिख दोनों में कौन सा प्लान लेना बेहतर रहेगा?


जवाब: मैक्स बूपा और अपोलो म्यूनिख दोनों ही प्लान काफी अच्छे हैं। लेकिन अपोलो म्यूनिख का प्रीमियम मैक्स बूपा की तुलना में 1,000 रुपये कम है। साथ ही 1 साल क्लेम नहीं करने पर कवर की रकम 50 फीसदी बढ़ जाती है, वहीं 2 साल तक कोई क्लेम नहीं करने पर कवर की रकम में 100 फीसदी की बढ़ोतरी होती है। ऐसे में अपोलो म्यूनिख प्लान लेना ज्यादा बेहतर रहेगा।


वीडियो देखें