इंश्योरेंस लेते समय ना आएं एजेंट के झांसे में -
Moneycontrol » समाचार » बीमा

इंश्योरेंस लेते समय ना आएं एजेंट के झांसे में

प्रकाशित Wed, 08, 2012 पर 13:24  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पॉलिसीबाजार डॉट कॉम के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर अक्षय मेहरोत्रा बता रहे हैं इंश्योरेंस पॉलिसी से जुड़ी परेशानियों का हल।


सवाल: मैंने 3 साल पहले एजेंट के कहने पर एलआईसी की मनी प्लस पॉलिसी ली थी। पॉलिसी का सालाना प्रीमियम 20,000 रुपये है। वहीं अब तक 3 प्रीमियम भरे हैं। पॉलिसी लेते समय एजेंट ने कहा था कि पॉलिसी की अवधि 6 साल और केवल 3 साल तक ही पैसे भरने की और 6 साल बाद भरी रकम के दोगुना पैसे मिलेंगे। लेकिन 3 साल प्रीमियम बरने के बाद आज भी पॉलिसी की फंड वैल्यु काफी कम है, क्या करू?


अक्षय मेहरोत्रा: अब तक बाजार में कोई भी ऐसा प्रोडक्ट नहीं आया है, जहां केवल 3 साल के निवेश से रकम दोगुना हो जाए। आप पूरी तरह से एजेंट के बहकावे में आए गए हैं। ऐसे में इंश्योरेंस कंपनी और आईआरडीए को एजेंट के खिलाफ कार्रवाई के लिए खत लिखें। इसके अलावा एलआईसी मनी प्लस एक यूलिप प्लान है, 3 साल तक प्रीमियम भरने के बाद अब इसमें चार्जेस भी काफी कम हो गए होंगे। ऐसे में चाहे को पॉलिसी के साथ बने रह सकते हैं। वहीं दोबारा कोई भी पॉलिसी लेते समय एजेंट के झांसे में ना आएं। एजेंट द्वारा बताई गई बातों का अपने स्तर पर जांच करें।


सवाल: ऑनलाइन और ऑफलाइन टर्म प्लान में क्या अंतर होता है। ऑनलाइन प्लान में क्लेम की प्रक्रिया क्या है?


अक्षय मेहरोत्रा: ऑनलाइन और ऑफलाइन टर्म प्लान में कोई अंतर नहीं होता है। दोनों की प्लान समान होते हैं और सुविधाएं भी दोनों ही प्लान में समान हैं। हालांकि ऑफलाइन प्लान एजेंट के जरिए लेना पड़ता है कि इसके लिए यह महंगा होता है। वहीं ऑनलाइन टर्न प्लान काफी सस्ते होते हैं। इसके अलावा इंश्योरेंस पॉलिसी में क्लेम की प्रक्रिया भी बेहद आसान है, पॉलिसी लेते सयम अपने बारे में सटीक और संर्पूण जानकारी दें। जिसके आगे चलकर प्लान में क्लेम मिलने में परेशानी नहीं होती है।


सवाल: मैं अपनी 2 साल की बेटी के लिए मनी बैक चाइल्ड प्लान लेना चाहता हूं। एलआईसी के कुथ चाइल्ड प्लान देखे हैं। कृप्या बताएं सबसे बेहतर चाइल्ड प्लान कौन सा है, जिसे लेना चाहिए?


अक्षय मेहरोत्रा: चाइल्ड प्लान लेते समय बच्चे के भविष्य और लाइफ कवर दोनों पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। ट्रेडिशनल और यूलिप लिंक्ड दो तरह के चाइल्ज प्लान होते हैं। वहीं हमेशा यूलिप लिंक्ड प्लान को प्राथमिकता देनी चाहिए। अविवा का यंग स्कॉलर प्लान लेना सबसे बेहतर रहेगा।


वीडियो देखें