Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

फाइनेंशियल प्लानिंग से जुड़े सवाल-जवाब

प्रकाशित Sat, 27, 2012 पर 15:21  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आइए फोकस करते है फाइनेंशियल प्लानिंग से जुड़े सवालों पर जिनके जवाब देंगेवाइजइन्वेस्ट एडवाइजर्स के सीईओ हेमंत रुस्तगी -


सवाल : मेरी उम्र 35 साल और पत्नी की उम्र 37 साल है। वहीं मेरी सैलरी माह 60,000 रुपये है और पत्नी की सैलरी माह 26,000 रुपये है। पर्सनल लोन की ईएमआई माह 12,426 रुपये है। सेविंग अकाउंट में 7 लाख रुपये है।


मेरे पास एलआईसी जीवन आनंद का सालाना 12,300 रुपये, एलआईसी जीवन छाया का सालाना 33,013 रुपये, एलआईसी चाइल्ड फ्यूचर प्लान का सालाना 30,000 रुपये, आईसीआईसीआई हेल्थ सेवर का सालाना 15,000 रुपये और आईसीआईसीआई प्रु आई केयर का 50 लाख रुपये कवर का प्लान है।  इसके अलावा और भी कई फंदस में निवेश किया हुआ है। फाइनेंशियल प्लानिंग में और क्या करने की जरूरत है? क्या इस निवेश से लक्ष्य की पूर्ति हो सकती है?


बेटी की पढाई के लिए 15 साल में 25 लाख रुपये, बेटी की शादी के लिए 20 साल में 25 लाख रुपये, दूसरे बच्चे की पढ़ाई के लिए 18 साल में 25 लाख रुपये, दूसरे बच्चे की शादी के लिए 23 साल में 25 लाख रुपये, रिटायरमेंट के लिए 25 साल में 50 लाख रुपये का लक्ष्य है।


हेमंत रुस्तगी : आप और आपकी पत्नी दोनों कमा रहे है हैं इसलिए टर्म प्लान दोनों के लिए जरूरी है। आपके लिए 5 लाख रुपये का हेल्थ कवर काफी नहीं है। आपके सारे लक्ष्य लंबी अवधि के हैं इसलिए इक्विटी में निवेश करना फायदेमंद होगा। 15 साल में 25 लाख रुपये जुटाने के लिए इक्विटी फंड में हर महीने 4,000 रुपये का निवेश करना होगा। 20 साल में 25 लाख रुपये जुटाने के लिए आपको इक्विटी, गोल्ड फंड में हर महीने 3 हजार रुपये निवेश करने होंगे।


18 साल में 25 लाख के लिए इक्विटी में हर महीने 3,000 रुपये और 23 साल में 25 लाख रुपये के लिए इक्विटी, गोल्ड फंड में हर महीने 2 हजार रुपये लगाने होंगे। 25 साल में रिटायर मेंट के समय 50 लाख रुपये का लक्ष्य पूरा करने के लिए माह 3 हजार रुपये निवेश करने की जरुरत होगी।    


सवाल : उम्र 35 साल है और सैलरी माह 77,000 रुपये है। 2009 में माह 12,000 रुपये प्रीमियम का बजाज आलियांज यूनिट गेन प्लस और 30,000 रुपये प्रीमियम का भारती एक्सा ब्राइट स्टार का इंश्योरेंस प्लान लिया है। इसके अलावा एचडीएफसी टॉप 200, एचडीएफसी मिडैकप ऑपर्च्यूनिटीज, एचडीएफसी डिविडेंड यील्ड में भी निवेश है।


5 साल में 15 लाख रुपये घर खरीदने के लिए, 12 साल में 10 लाख रुपये बच्चे की पढ़ाई के लिए, 18 साल में 20 लाख रुपये, बच्चे की शादी के लिए और 25 साल में 50 लाख रुपये रिटायरमेंट के लिए चाहिए। अबी तक का निवेश कैसा है, और लक्ष्य हासिल करने के लिए और कितना निवेश करना होगा?


50-75 लाख कवर का टर्म प्लान लेने की सोच रहा हूं। क्या दोनों यूलिप में प्रीमियम देना अभी बंद कर दूं और सरेंडर 6 साल के बाद करना ठीक होगा? भारती एक्सा की पॉलिसी बंद करने के बाद भी क्या क्रिटिकल ईलनेस राइडर का फायदा जारी रहेगा?


हेमंत रुस्तगी : भारती एक्सा ब्राइट स्टार का लॉक इन पीरियड भले ही 3 साल का है, लेकिन प्रीमियम कम से कम 5 साल के लिए देना जरूरी है। कई बीमा कंपनियां एनआरआई को टर्म प्लान ऑफर नहीं करती है और यदि कुछ कंपनियां टर्म प्लान देती है तो वो पहले फॉर्म भरवाकर लेती हैं। 


बच्चे की पढ़ाई के लिए 12 साल में 10 लाख रुपये के लिए इक्विटी फंड में माह 3,500 रुपये, 18 साल में 20 लाख रुपये के लिए माह 3 हजार रुपये और 25 साल में 50 लाख रुपये के लिए माह 3 हजार 5 साल निवेश करने होंगे।


सवाल : उम्र 42 साल और सैलरी माह 48,000 रुपये है। 51 लाख रुपये कवर का बिड़ला सनलाइफ टर्म प्लान, एलआईसी मनी बैक न्यू बीमा गोल्ड प्लस पॉलिसी, आईसीआईसीआई लाइफ टाइम गोल्ड, बिड़ला सन लाइफ जीवन सरल का इंश्योरेंस प्लान है। जीपीएफ में माह 5,000 रुपये, एचडीएफसी इक्विटी- 2,000 रुपये प्रति महीने, एचडीएफसी टॉप 200 में 2,000 रुपये प्रति महीने और एचडीएफसी मिडकैप ऑपर्च्यूनिटी में 2,000 रुपये प्रति महीने निवेश करता हूं।


2 साल पहले 7 लाख रुपये में जमीन खरीदी थी। सरकारी नौकरी है तो मुफ्त में इलाज की सुविधा है और रिटायरमेंट पर पेंशन भी मिलेगी। एमरजेंसी फंड बनाना, बेटे की पढ़ाई के लिए पैसे जोड़ना, घर खरीदने के लिए पैसे जोड़ना और मां-पिताजी के लिए 5 लाख रुपये जोड़ना चाहता हूं। 


क्या म्युचूअल फंड मे निवेश बेहतर है या पिर जीपीएफ में 4 साल तक प्रीमियम देने के बाद इन दोनों यूलिप में प्रीमियम देना बंद कर चुका हूं। इन्हें जारी रखूं या नहीं? अभी जो टर्म प्लान है, इसका प्रीमियम मुझे ज्यादा लग रहा है, क्या टर्म प्लान नया लेना चाहिए?


हेमंत रुस्तगी : टर्म प्लान लेना सही फैसला है। टर्म प्लान खरीदना सिर्फ प्रीमियम की रकम पर निर्भर नहीं होता है। जिन प्रीमियम की रकम दे चुके है, उनसे बाहर न निकलें। पोर्टफोलियो में डाइवर्सिफिकेशन के लिए प्रॉपर्टी में निवेश करना अच्छा है। म्यूचुअल फंड में जिन 3 स्कीम्स में निवेश किया उनका प्रदर्शन अच्छा है, लिहाजा उनमें बने रहें।


एक ही म्यूचुअल फंड के अलग अलग फंड्स में निवेश करने से बचना चाहिए। आईसीआईसीआई प्रू फोकस्ड ब्ल्यूचिप, रिलायंस इक्विटी ऑपर्च्यूनिटीज फंड में निवेश कर सकते हैं। जीपीएफ में मौजूदा निवेश बरकरार रखें और इक्विटी में भी निवेश करना जरूरी होगा। 


वीडियो देखें