फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए तय करें लक्ष्य -
Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए तय करें लक्ष्य

प्रकाशित Sat, 03, 2012 पर 12:06  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ऑप्टिमा मनी मैनेजर्स के डायरेक्टर पंकज मठपाल का कहना है कि सटीक फाइनेंशियल प्लानिंग करने के लिए सबसे पहले लक्ष्यों को निर्धारित करें। अगर लक्ष्य ही नहीं बनाए गए हों तो ये पता नहीं चल पाता है कि कितने समय में कितनी रकम की जरूरत पड़ने वाली है।


सवालः मैंने एलआईसी जीवन आनंद पॉलिसी ली हुई है जिसका सालाना प्रीमियम 32,000 रुपये है, इसके अलावा टाटा इंफ्रास्ट्रक्चर फंड में 25,000 रुपये एकमुश्त निवेश किया हुआ है। साथ ही टाटा यूलिप में 1500 रुपये प्रति माह और टैक्स रिलीफ 96 फंड में 4000 रुपये प्रति माह का निवेश कर रहा हूं। मेरी फाइनेंशियल प्लानिंग कैसी है और 5000 रुपये की एसआईपी करना चाहता हूं कहां करनी चाहिए? 15 साल में 1 करोड़ रुपये जोड़ने हैं।


पंकज मठपाल: एलआईसी जीवन आनंद एक एन्डाओमेंट और होल लाइफ प्लान है जिसका लाइफ कवर कम है। आपको लाइफ इंश्योरेंस का कवर बढ़ाने की जरूरत है। आपको एक टर्म प्लान लेने की जरूरत है। एचडीएफसी का क्लिक टू प्रोटेक्ट टर्म प्लान ले सकते हैं। 4-6 महीने के खर्चों के बराबर रकम एक इमरजेंसी फंड में डालिए। आप फिकस्ड डिपॉजिट और सेविंग्स अकाउंट में निवेश कर सकते हैं। इसके अलावा एक लिक्विड फंड में पैसा डालिए। इसके लिए एचडीएफसी कैश मैनेजमेंट या आईसीआईसीआई प्रू लिक्विड प्लान में से चुनाव कर सकते हैं।


सवालः 6 फंड में 6000 रुपये की एसआईपी चल रही है। एलआईसी मार्केट प्लस समेत कुछ इंश्योरेस पॉलिसी भी चल रही है। एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ क्रेस्ट में भी निवेश किया है। मेरी फाइनेंशियल प्लानिंग कैसी होनी चाहिए?


पंकज मठपाल: आपकी फाइनेशियल प्लानिंग में कोई लक्ष्य नहीं है। सबसे पहले अपने निवेश के लक्ष्य तय करें और देखें कि कितने समय मे कितनी रकम की जरूरत पड़ेगी। सही फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए ऐसेट एलोकेशन बहुत जरूरी होता है। पोर्टफोलियो में एक टर्म प्लान जरूर लें। साथ ही हेल्थ इंश्योरेंस भी लें जो स्वास्थ्य संबंधी खर्चों को पूरा करने में आपकी मदद करेगा। इसके साथ ही एक इमरजेंसी फंड भी बनाए जो अचानक आने वाले खर्चों की स्थिति में काम आएगा।


वीडियो देखें