Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

2013 के लिए फाइनेंशियल चेक लिस्ट जानें

प्रकाशित Wed, 02, 2013 पर 12:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

इंटरनेशनल मनी मैटर्स के डिप्टी सीईओ उदय धूत ने 2013 में फाइनेंशियल चेक लिस्ट के बारे में जानकारी दी है।


उदय धूत का कहना है कि जैसे आप एक घर बनाते हैं और उसकी नींव पर ध्यान देते हैं उसी तरह अपने फाइनेंशियल पोर्टफोलियो को बनाते समय जांच करनी चाहिए। आपको देखना चाहिए कि आपके पास पर्याप्त लाइफ कवर या हेल्थ कवर है या नहीं। आपके पास पर्याप्त एक्सीडेंटल कवर या क्रिटिकल इलनेस कवर है या नहीं।


हेल्थ कवर के लिए आपके पास अपनी कंपनी की पॉलिसी के अलावा अपना खुद का 4-5 लाख रुपये तक का हेल्थ कवर होना चाहिए। आप टॉप अप पॉलिसी भी ले सकते हैं। 


हेल्थ के अलावा एक टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी जरूर लेनी चाहिए जिससे आपके परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित हो सके। इसके अलावा क्रिटिकल इलनेस कवर लेना चाहिए। साथ ही भारत जैसे देश में एक्सीडेंटल कवर जरुर होना चाहिए।


आपको जांचना चाहिए कि आपने अपने लक्ष्यों की एक सूची बनाई है या नहीं, इसके बाद किसी भी फाइनेंशियल उत्पाद को खरीदने से पहले आपको पता लग जाएगा कि वो आपके लक्ष्य को पूरा कर पाएगा या नहीं। देखें कि आप लक्ष्य बनाकर निवेश कर रहे या नहीं।


उदय धूत के मुताबिक आपके नॉमिनी को आपके निवेश की पूरी जानकारी होनी चाहिए। नॉमिनी को सभी जानकारी दें और उसे निवेश की प्लानिंग में शामिल करें।


आपको जांचना चाहिए कि आपके अलग अलग लक्ष्य के लिए ऐसेट एलोकेशन ठीक है या नहीं। अगर आप समय की जांच करें तो वो भी काफी जरूरी है। घर खरीदना, गाड़ी खरीदना, शादी, बच्चों की पढ़ाई, बच्चों की शादी, रिटायरमेंट जैसे लक्ष्य की समय अवधि लिखने से आप तय कर पाएंगे कि आप कितना और कहां निवेश करना है।


उदय धूत के मुताबिक आपने लक्ष्यों की प्राथमिकता तय करें। साथ ही एक इमरजेंसी फंड अवश्य होना चाहिए जिससे किसी मुश्किल घड़ी में आपके पास पैसे की कमी नहीं होगी।


देखें कि आप लंबी अवधि के लक्ष्य को पूरा करने की प्रक्रिया में कहां तक पहुंचे हैं। सिर्फ टैक्स बचाने के लिहाज से निवेश ना करें। अपने लक्ष्यों की वास्तविकता को जानें क्योंकि ये काफी जरूरी है।


वीडियो देखें