Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

भविष्य के लिये अभी से करें तैयारी

प्रकाशित Thu, 05, 2010 पर 15:08  |  स्रोत : Hindi.in.com

05 अगस्त 2010

सीएनबीसी आवाज़




आपके सुरक्षित भविष्य के लिये अब आपके पास ऐसे बीमा विकल्प हैं जिनके द्वारा आवश्यकतानुसार उत्पाद चुनकर आप निश्चिंत रह सकते हैं। भारत में बीमा व्यवसाय तेज़ी से आगे बढ़ रहा है और जानकारों के अनुसार इसमें आगे और बढ़ोतरी देखी जाने की आशा है।


सीएनबीसी आवाज़ पर सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर के पंकज मठपाल ने बीमा उत्पादों और बीमा कंपनियों से जुड़े कुछ मसलों पर अपनी राय दी जो आपके भी काफ़ी काम आ सकती है।

 


टर्म प्लान पर सुझाव



सुरक्षित भविष्य के लिए अगर आप ज्यादा मुनाफ़े की तलाश में हैं तो आपको टर्म इंश्योरेंस प्लान लेने की सलाह दी जा रही है। अगर आप टर्म इंश्योरेंस प्लान ले रहे हैं तो आप ऐसा प्लान लें जिसमें बीमे की राशि भी आपको पॉलिसी मैच्योर होने के समय पर मिले।




दो कंपनियों के टर्म प्लान ले सकते हैं लेकिन एक से लेने में डिस्काउंट का फायदा मिलेगा। बराबर राशि वाली दो पॉलिसी की तुलना में एक पॉलिसी का प्रीमियम कम होता है। जब आप नयी पॉलिसी ले रहे हों तो आप को अपनी मौजूदा पॉलिसी की जानकारी देना आवश्यक है नहीं तो क्लेम नामंज़ूर हो सकता है।



पंकज मठवाल ने कुछ अच्छे टर्म प्लान के नाम भी बताये जिसमें एगॉन रेलिगेयर i- टर्म प्लान, कोटक लाइफ प्रेफर्ड टर्म प्लान और आईसीआईसीआई प्रु- प्योर प्रोटेक्ट प्लान के नाम शामिल हैं।



इस बात का ख्याल रखना चाहिये कि अगर आप लंबी अवधि के लिये पैसा निवेश करना चाहते हैं तो आप इक्विटी म्युचुअल फंड में भी पैसा लगा सकते हैं।




बीमा कारोबार में आज भी अधिकांश लोग एलआईसी पर काफ़ी विश्वास करते हैं क्योंकि ये सरकारी कंपनी है। इस समय बाज़ार में बहुत सी कंपनियां अलग-अलग उम्र और ज़रूरतों के मुताबिक लोगों के लिये नये-नये बीमा उत्पाद ला रही हैं।



टर्म प्लान लेने के लिये पंकज की सलाह है कि निजी कंपनी से टर्म प्लान लें क्योंकि एलआईसी का प्रीमियम ऊंचा है। निजी कंपनी के प्लान लेने पर भी आपको अपने पैसे के बारे में चिंता करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि सभी इंश्योरेंस कंपनियों पर इरडा का नियंत्रण है और ये इरडा के दिशानिर्देशों के अंतर्गत कार्य करती हैं अतः पॉलिसीधारक के अधिकार सुरक्षितरहते हैं। इस बारे में आपको निश्चिंत रहना चाहिये।



एलआईसी के कुछ प्लान जिनपर आप ध्यान दे सकते हैं उनके नाम इस प्रकार हैं।



एलआईसी मार्केट प्लस एक यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान है। पॉलिसी लेने के 3 साल के बाद आप पॉलिसी सरेंडर कर सकते हैं। सरेंडर वैल्यू आपकी फंड वैल्यू के बराबर होगी जो मौजूदा दरों पर चल रही एनएवी पर आधारित होगी।


 



एलआईसी वैल्थ प्लस प्लान भी एक यूलिप है। इसे भी आप पॉलिसी लेने के 3 साल के बाद सरेंडर कर सकते हैं। इस पॉलिसी की अवधि 8 साल है और इसमें 2 साल का लाइफ कवर आपको अतिरिक्त मिलता है। पॉलिसी के इन दो सालों के बढ़े समय में आप ये प़लिसी सरेंडर नहीं कर सकते हैं।



इसके अलावा एलआईसी न्यू बीमा गोल्ड में निवेश किया जा सकता है। ये एक मनीबैक प्लान है और इसका प्रीमियम भी काफी कम है।




अगर आपके पोर्टफोलियो में अधिकांश लार्जकैप शेयर हैं और आपकी उम्र भी कुछ अधिक है तो आपको एमएफ-एफएमपी और एमआईपी में निवेश की सलाह दी जा रही है।


 


वीडियो देखें