Moneycontrol » समाचार » बीमा

हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़ी उलझनों पर सुझाव

प्रकाशित Thu, 24, 2013 पर 17:12  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

भारत में बड़ी मात्रा में लोगों ने हेल्थ इंश्योरेंस के महत्व और इसकी उपयोगिता को जाना है। वहीं अब लोग हेल्थ कवर लेने के लिए एक अच्छा बजट भी तैयार करने लगे हैं। लेकिन हेल्थ इंश्योरेंस को लेकर अधुरी जानकारियों के कारण मन में कई सवाल उठते है और इच्छा होकर भी लोग इंश्योरेंस में निवेश करना टालते हैं। आइए आपके ऐसे ही कुछ सुलझनों के जवाब जानते है इंटरनेशनल मनी मैटर्स के डिप्टी सीईओ उदय धूत जी से -


सवाल : 3 लाख रुपये कवर के लिए 2008 में एलआईसी जीवन आनंद पॉलिसी ली थी। इसे बंद करके 30 लाख रुपये कवर का टर्म प्लान लेना चाहता हूं। जीवन आनंद बंद करने पर क्या कुछ नुकसान होगा? पेडअप पॉलिसी क्या है? 


उदय धूत : एलआईसी जीवन आनंद एक एनडाउमेंट और होल लाइफ पॉलिसी का मिश्रण है। इस पॉलिसी टर्म खत्म होने पर सम अश्योर्ड और बोनस मिलता है और रिस्क कवर पूरी जिंदगी रहता है। इस पॉलिसी में 2 राइडर पहले से जुड़े हुए होते है। इसमें क्रिटिकल इलनेस राइडर लेने का भी विकल्प मौजूद है और 3 साल बाद सरेंडर करने पर गारंटीड सरेंडर वैल्यू भी मिलती है।


ट्रेडिशनल प्लान में 3 साल के बाद अगर प्रीमियम नहीं देते हैं तो वो पॉलिसी पेड अप में तब्दील हो जाती है। पेड अप पॉलिसी में प्रीमियम इंश्योरेंस कंपनी के पास ही होता है, उस पर इंटरेस्ट मिलता है। पेड अप पॉलिसी में दिए गए प्रीमियम के हिसाब से सम अश्योर्ड भी कम हो जाता है। अगर आप थोड़ा नुकसान उठा सकते हैं, तो पॉलिसी पेड अप करवा लें। 


सवाल : मेरी उम्र 38 साल है। टर्म प्लान, एनडाउमेंट पॉलिसी मिलाकर मेरे पास 4 पॉलिसी हैं, एजेंट ने कहा था कि धूम्रपान की आदत के बारे में बताने की जरूरत नहीं है, लेकिन अब मुझे लगता है कि कंपनी को बताना चाहिए। क्या कंपनी को धूम्रपान की आदत के बारे में जानकारी दूं या बिना बताए ही नया टर्म प्लान ले लूं?


उदय धूत : टर्म प्लान लेते समय सही जानकारी देना जरूरी है। अगर आप स्वास्थ्य से जुड़ी कोई बात छिपाते हैं तो क्लेम रिजेक्ट होने का डर होता है। आप अपनी पुरानी पॉलिसी बंद करें और नई पॉलिसी लें। साथ ही नई पॉलिसी लेते वक्त धूम्रपान की आदत के बारे में भी जरूर बताएं।


सवाल : एचडीएफसी क्रेस्ट पॉलिसी ली। क्या एचडीएफसी क्रेस्ट में 10 साल में 10 फीसदी का रिटर्न मिलेगा? पॉलिसी अब भी फ्रीलुक पीरियड में है, क्या इसे वापस कर देना चाहिए?


उदय धूत : एचडीएफसी क्रेस्ट प्लान एक यूनिट लिंक्ड प्लान है। इसमें केवल 5 साल का प्रीमियम देना होता है और ये पॉलिसी 10 साल तक चलती है। एचडीएफसी क्रेस्ट में हाईएस्ट एनएवी गारंटीड फंड और फ्री एसेट एलोकेशन जैसे निवेश की दो स्ट्रैटेजी होती है।

एचडीएफसी क्रेस्ट प्लान  में 5 साल बाद कुछ पैसे निकालने की सुविधा मिलती है। इसमें पहले, दूसरे साल प्रीमियम का 4 फीसदी एलोकेशन चार्ज होता है। तीसरे साल प्रीमियम का 3 फीसदी और चौथे-पांचवें साल प्रीमियम का 2 फीसदी एलोकेशन चार्ज लगता है। एचडीएफसी क्रेस्ट प्लान में फंड मैनेजमेंट चार्ज फंड वैल्यू का 1.35 फीसदी होता है और पॉलिसी एडमिन चार्ज 0.31 फीसदी लगता है। इसमें 5 साल बाद पैसे निकालने पर कोई सरेंडर चार्ज नहीं लगता है।


सवाल : मेरी उम्र 28 साल है। मैं एलआईसी जीवन सुरभि में निवेश करता हूं। इस निवेश को दिसंबर 2013 में 4 साल पूरे हो जाएंगे। इस पॉलिसी में सालाना 25000 रुपये का प्रीमियम भरता हूं। 4 साल के बाद 60,000 रुपये मिलेंगे क्या इसके बाद पॉलिसी बंद करना ठीक होगा? मुझे एक टर्म प्लान लेना है। एगॉन रेलिगेयर की पॉलिसी लूं या भारती अक्सा की या फिर एचडीएफसी लाइफ की पॉलिसी लूं?


उदय धूत : एलआईसी जीवन सुरभि एक ट्रेडिशनल प्लान है। इसमें हर 4 साल पर सम अश्योर्ड का 20 फीसदी मिलता है। ट्रेडिशनल प्लान में सरेंडर चार्ज काफी ज्यादा होता है इसलिए पॉलिसी में प्रीमियम जारी रखें। टर्म प्लान लेने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। आप जितने साल काम करेंगे उतने ही साल के लिए कवर लें। आमदनी, खर्च और भविष्य की जिम्मेदारियों का हिसाब किताब लगाकर कवर तय करें।

वीडियो देखें