Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

बजट से पहले बैंकिंग शेयरों पर राय

प्रकाशित Wed, 27, 2013 पर 12:22  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एंजेल ब्रोकिंग के वाइस प्रेसिडेंट वैभव अग्रवाल का कहना है कि बजट में बैंकिंग सेक्टर में पीएसयू बैंकों के लिए कितना कैपिटल बजट आवंटित किया जाता है ये देखना जरूरी होगा। मध्यम अवधि में नए प्लेयर्स आने की उम्मीद है तो शायद धीरे-धीरे पीएसयू बैंकों का मार्केट शेयर कम हो जाएगा और सरकार को कैपिटल डालने की जरूरत भी कम होगी। लेकिन अगले 1 साल तक पीएसयू बैंको को सरकार से 15,000-20,000 करोड़ रुपये का कैपिटल डालने की जरूरत है और वो पीएसयू बैंको के लिए सकारात्मक हो सकता है।


वैभव अग्रवाल के मुताबिक सरकार बीएफएसआई सेक्टर में सेविंग के लिए और हाउसिंग के लिए और कुछ इंसेटीव बढ़ाती है तो उससे कुछ कंपनियों को फायदा हो सकता है। मिडकैप सेक्टर में कई सारे पीएसयू बैंक है जिनका कैपिटल एडिक्वेसी दोबारा काफी कम हुआ है। फिर भले वो बैंक ऑफ महाराष्ट्र हो या इंडियन ओवरसीज बैंक हो लेकिन ज्यादा तर देखा गया है कि बड़े बैंक हर साल और कैपिटल ले रहे हैं क्योंकि उनकी ग्रोथ काफी अच्छी है। हालांकि उनकी कैपिटल एडीक्वेसी 8 फीसदी से ज्यादा हो परंतु फिर भी उन्हें कुछ ना कुछ सपोर्ट जरूर मिलता है और ये रुख इस साल भी बरकरार रहेगा।


          
वीडियो देखें