Moneycontrol » समाचार » बजट प्रतिक्रियाएं

बजट से रियल्टी सेक्टर के हाथ लगी निराशा

प्रकाशित Sat, 02, 2013 पर 14:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मंदी के दौर से गुजर रहे रियल एस्टेट सेक्टर को इस बजट ने काफी निराश किया है। बिल्डरों का कहना है कि बजट में हुए ऐलान घर खरीदारों पर और बोझ बढ़ाएंगे। वहीं जो एक-दो ऐलान हुए हैं, वो भी इस सेक्टर को कुछ खास राहत नहीं दे पाएंगे।


पहली बार घर खरीद रहे लोगों के लिए सुनने में ये थोड़ी राहत की खबर जरूर लगेगी, लेकिन ये सिर्फ उन लोगों के के लिए हैं जिनका बजट 30 लाख रुपये तक का है। जबकि ये उम्मीद की जा रही थी कि इस तरह की छूट हर तरह के होम लोन लेने वाले को मिलेगी। लेकिन सवाल ये है कि इससे बड़े शहरों में घर खरीदने वालों के लिए क्या फायदा होगा, क्योंकि 25 लाख रुपये दिल्ली, मुंबई जैसे बड़े शहरों में मिलना नामुमकिन है।


डेवलपर्स के मुताबिक छोटे शहरों में घर खरीदने वालों को थोड़ी राहत जरूर मिलेगी। लेकिन दुसरी तरफ 50 लाख से ज्यादा की खरीद बेच पर पर 1 फीसदी डीटीएस देना होगा, जिससे घर और मंहगे हो जाएंगे।


इसके अलावा अब 2000 स्क्वेयर फिट से ज्यादा एरिया और 1 करोड़ रुपये से ज्यादा कीमत वाले घर भी महंगे होंगे क्योंकि इन पर लगने वाले सर्विस टैक्स में एबेटमेंट के तहत मिलने वाली छूट को 75 से घटाकर 70 फीसदी कर दिया गया है। इस का सबसे ज्यादा असर मुंबई जैसे शहरों पर पड़ेगा जहां पर अब केवल एक 2बीएचके फ्लैट का औसत भाव 1 करोड़ रुपये से उपर चला गया है।


हालांकि हाउसिंग इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए रुरल हाउसिंग बोर्ड को 6000 करोड़ रुपये देने की बात बजट में कही गई है साथ ही इस तरह का अर्बन हाउसिंग फंड बना कर उसमें 2000 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया है। लेकिन बिल्डरों को इसमें कुछ खास फायदा नहीं नजर आ रहा है।


वीडियो देखें