जानिए वित्त वर्ष-13 के हिट-फ्लॉप शेयर -
Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

जानिए वित्त वर्ष-13 के हिट-फ्लॉप शेयर

प्रकाशित Thu, 28, 2013 पर 11:47  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2013 समाप्ति के कगार पर है, यह वित्त वर्ष बाजार के लिए काफी मिलाजुला रहा है। आर्थिक मोर्चे पर बाजार को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा है। ऐसे में यहां यह आकलन करना बेहद जरूरी है कि इस कारोबारी साल में निवेशकों ने क्या खोया और क्या पाया है। यहां हम बता रहें हैं ऐसे शेयर जो वित्त वर्ष 2013 में हिट और फ्लॉप रहे हैं, वहीं आगामी कारोबारी साल में इन शेयरों की चाल कैसी रहेगी।


मानसजायसवाल डॉट कॉम के मानस जायसवाल की सलाह-


यूनाइटेड स्पिरिट्स


कारोबारी साल 2013 में यूनाइटेड स्पिरिट्स के शेयर ने 211 फीसदी का सकारात्मक रिटर्न दिया है। ऐसे में निवेशकों को 1,740 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ शेयर में बने रहना चाहिए। लंबी अवधि में शेयर 2,150 रुपये तक से स्तर छू सकता है।


आईटीसी


आईटीसी के शेयर ने वित्त वर्ष 2013 में 35 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं फिलहाल शेयर में 310-320 रुपये के स्तर पर रेसिस्टेंस है। ऐसे में मौजूदा निवेशकों को 300 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ बने रहना चाहिए। हालांकि मौजूदा साल के मुकाबले आनेवाले कारोबारी साल में आईटीसी के शेयर  से ज्यादा रिटर्न मिलने की उम्मीद कम है।


एचयूएल


एचयूएल में ऊपरी स्तरों से काफी गिरावट देखी गई है, हालांकि शेयर में अब रिकवरी हो रही है। शेयर यदि 495-500 रुपये के स्तर पर आता है तो इसमें बिकवाली की रणनीति बनानी चाहिए। वहीं वित्त वर्ष 2014 एचयूएल के शेयर के लिए ज्यादा आकर्षक नहीं लग रहा है।


एचसीएल टेक


एचसीएल टेक के शेयर में वित्त वर्ष 2013 में 60 फीसदी का सकारात्मक रिटर्न दिया है। लंबी अवधि के लिहाज से ये शेयर काफी शानदार है। निवेशकों को इसमें बने रहना चाहिए, आनेवाले समय में शेयर 1,000-1,020 रुपये तक के स्तर छूने की क्षमता रखता है।


जिंदल स्टील एंड पावर


जेएसपीएल के शेयर ने वित्त वर्ष 2013 में 35 फीसदी का नकारात्मक रिटर्न दिया है। फंडामेंटल नजरिए से शेयर काफी कमजोर लग रहा है। वहीं अगले 3 महीनों में शेयर में मौजूदा स्तरों से और ज्यादा गिरावट देखी जा सकती है।


रिलायंस इंफ्रा


रिलायंस इंफ्रा के शेयर में वित्त वर्ष 2013 के दौरान 45 फीसदी की गिरावट देखी गई है। शेयर में मौजूदा कमजोरी आनेवाले समय में भी बरकरार रहने की आशंका है। अगले 6-8 महीनों में गिरावट के साथ 285-275 रुपये तक के स्तर देखे जा सकते हैं।


सन फार्मा


वित्त वर्ष 2013 में सन फार्मा के शेयर में 45 फीसदी की बढ़त देखी गई है। शेयर में मजबूती देखी जा रही है, ऐसे में निवेशकों को 810 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ बने रहना चाहिए। आनेवाले समय में शेयर 840 रुपये तक के स्तर दिखा सकता है। वहीं 840 रुपये का स्तर पार करने पर शेयर 910 रुपये तक के स्तर छूने की क्षमता रखता है।


आलोक इंडस्ट्रीज


आलोक इंडस्ट्रीज के शेयर में कारोबारी साल 2013 के दौरान 60 फीसदी की कमजोरी दर्ज की गई है। वहीं मौजूदा समय में शेयर काफी लुढ़क चुका है, ऐसे में और गिरावट की उम्मीद कम है। निवेशकों को 7.5 रुपये के नीचे का स्टॉपलॉस रखकर बने रहना चाहिए, शेयर यदि 8.5 रुपये का स्तर पार करता है तो इसमें 11 रुपये तक के स्तर देखे जा सकते हैं।



फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज


कारोबारी साल 2013 में फिनोलेक्स के शेयर में 89 फीसदी की बढ़त देखी गई है। मौजूदा स्तरों पर शेयर में मुनाफावसूली की जा सकती है। वहीं लंबी अवधि में शेयर 125 रुपये तक के स्तर छूने की क्षमता रखता है।


फेयरवेल्थ सिक्योरिटीज की शाहिना मुकादम की सलाह-


एचसीएल टेक


आईटी सेक्टर में एचीसएल टेक सबसे बेहतर दिखाई दे रहा है, वहीं मौजूदा भाव में शेयर काफी आकर्षक लग रहा है। अगले 2 साल में कंपनी 11-14 फीसदी की ग्रोथ दिखा सकती है। वहीं अगले 1 साल में एचसीएल टेक का शेयर 890 रुपये तक के स्तर छू सकता है।


बीएचईएल


वित्त वर्ष 2013 में बीएचईएल के शेयर में करीब 31 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। निवेशकों को लंबी अवधि के नजरिए से शेयर से दूरी बनाए रखनी चाहिए। आनेवाले समय में शेयर लुढ़ककर 150-140 रुपये के स्तर दिखा सकता है।


बर्जर पेंट्स


वित्त वर्ष 2013 में बर्जर पेंटर के शेयर ने 86 फीसदी का शानदार रिटर्न दिया है। शेयर में बढ़त का रुख देखा जा रहा है। शेयर में लंबी अवधि का नजरिया रखना चाहिए, शेयर में बढ़त के साथ 250 रुपये तक के स्तर देखे जा सकते हैं।


ग्लेनमार्क फार्मा


ग्लेनमार्क फार्मा के शेयर में वित्त वर्ष 2013 में 52 फीसदी की बढ़त देखी गई है। फार्मा क्षेत्र में यह एक बेहतर शेयर है, वहीं मध्यम-लंबी अवधि के लिए शेयर में निवेश सुरक्षित दिखाई दे रहा है। ऐसे में लंबी अवधि के निवेशकों को बने रहना चाहिए।


एम्टेक ऑटो


कारोबारी साल 2013 में एम्टेक ऑटो के शेयर में 53 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। आनेवाले समय में भी शेयर पर दबाव की स्थिति बरकरार रहने की आशंका है। ऐसे में किसी भी उछाल पर बिकवाली की रणनीति बनाना उचित होगा।


एचडीआईएल


एचडीआईएल में नकारात्मक रुख देखा जा रहा है, वहीं अगले 1 साल और नकारात्मक सेंटिमेंट बरकरार रहने की आशंका है। ऐसे में किसी भी तेजी में शेयर से निकलना चाहिए, शेयर में गिरावट के साथ 40 रुपये तक के स्तर देखे जा सकते हैं।


बीईएमएल


वित्त वर्ष 2013 में बीईएमएल के शेयर में 79 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। फंडामेंटल नजरिए से शेयर काफी कमजोर दिखाई दे रहा है। आनेवाले समय में भी शेयर में किसी खास बढ़त की उम्मीद नहीं है।


एचओईसी


कारोबारी साल में एचओईसी के शेयर में 54 फीसदी की गिरावट देखी गई है। शेयर में नकारात्मक रुख बरकरार रहने की उम्मीद है। ऐसे में किसी भी उछाल पर बिकवावी की रणनीति बनानी चाहिए।


वीडियो देखें