Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

बेटियों की शादी के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग

प्रकाशित Sat, 13, 2013 पर 12:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आइए फोकस करते है आपकी फाइनेंशियल प्लानिंग पर और उससे जुड़े सवालों के जवाब देंगे लैडरअप वेल्थ मैनेजमेंट के मैनेजिंग डायरेक्टर राघवेंद्र नाथ। 


सवाल : मेरी उम्र 36 साल है और मासिक आमदनी 50,000-60,000 रुपये है। मैं हर महीने एचडीएफसी मिडकैप ऑपर्च्यूनिटीज, रिलायंस इक्विटी ऑपर्च्यूनिटीज, एसबीआई एफएमसीजी फंड, एसबीआई एफएमसीजी फंड, आईसीआईसीआई प्रू डिस्कवरी फंड और यूटीआई एफटीआईएफ में 1000-1000 रुपये निवेश करता हूं। इसके अलावा एचडीएफसी गोल्ड फंड, एचडीएफसी टॉप 200 में हर महीने 2000 रुपये, एसबीआई इमर्जिंग बिजनेस में एकमुश्त 20,000 रुपये और एनपीएस में सालाना 12,000 रुपये का निवेश करता हूं। साथ ही 50 लाख रुपये कवर का टर्म प्लान है।


पहली बेटी की पढ़ाई के लिए 2021 में 25 लाख रुपये, दूसरी बेटी की पढ़ाई के लिए 2022 में 25 लाख रुपये, दोनों बेटियों की शादी के लिए 2026 में 12 लाख और 2028 में 12 लाख रुपये का लक्ष्य हैं। क्या इस फाइनेंशियल प्लानिंग से लक्ष्य पूरे हो जाएंगे? 


राघवेंद्र नाथ : आपकी फाइनेंशियल प्लानिंग अच्छी है। आपके आय के हिसाब से 50 लाख रुपये का टर्म कवर अच्छा है। आपको अपने पोर्टफोलियो में थोड़ा बदलाव करने की जरूरत है। क्योंकि आपके लक्ष्य के हिसाब से निवेश थोड़ा कम है। 7,000 रुपये की एसआईपी से बेटी की पढ़ाई का लक्ष्य पूरा होना मुश्किल है। इसलिए आपको बेटी की पढ़ाई के लिए इक्विटी फंड में एसआईपी बढ़ाकर हर महीने 15,000 रुपये करनी होगी।


एफडी की जगह आप एफएमपी में निवेश करें और गोल्ड एसआईपी बंद कर दें क्योंकि रिटर्न काफी कम है। रिलायंस बैंकिंग फंड की जगह आप रिलायंस इक्विटी ऑपर्च्यूनिटीज में निवेश करें। साथ ही इमर्जेंसी फंड में भी निवेश बढ़ाएं। आपको रिटायरमेंट के लिए म्यूचुअल फंड में एसआईपी शुरु करनी चाहिए। 


सवाल : मेरी उम्र 32 साल है और मासिक आमदनी 48,000 रुपये है। मेरा होम लोन 19,30,000 रुपये का है, पर्सनल लोन 15,000 रुपये का है और दोस्तों से 3,50,000 रुपये का कर्ज लिया है। हर महीने होम लोन की ईएमआई 18,933 रुपये, पर्सनल लोन की ईएमआई 2,478 रुपये और घर खर्च में 18,000 रुपये खर्च होते हैं। मैं 2 फंड में हर महीने 1000 रुपये की एसाआईपी करता हूं। पीपीएफ और ईपीएफ में 1,50,000 रुपये, एफडी, गोल्ड, सिल्वर में 2,25,000 रुपये और बचत खाते में 50,000 रुपये का निवेश हैं। परिवार के सभी सदस्यों के लिए 1-1 लाख रुपये का मेडिकल कवर है। 25 लाख का टर्म कवर प्लान है और सालाना 9000 रुपये प्रीमियम की एलआईसी पॉलिसी है। 


2015 तक दोस्तों, रिश्तेदारों का कर्ज चुकाना है, 2014 तक 3 लाख का इमरजेंसी फंड बनाना है, 2014 तक 82,000 रुपये का सर्विस टैक्स और वैट चुकाना है, 2015-16 तक घर के फर्निचर के लिए 2 लाख रुपये, 2016 तक 5 लाख रुपये की गाड़ी, 2022 तक 50 लाख रुपये का दूसरा घर, 2033-34 तक 15 लाख रुपये बच्चे की शादी के लिए और 2038 तक 5 करोड़ रिटायरमेंट के लिए पैसे जुटाने हैं। क्या इस निवेश से लक्ष्य हासिल होगा?


राघवेंद्र नाथ : आपके पास लियाबिलिटी काफी ज्यादा है और इनकम सीमित है। आप अपने सभी कर्ज चुकाने के बाद ही लक्ष्य तय करें। खर्चों के बाद जो भी 8-10 हजार रुपये बचते है उससे आप होमलोन अदा करने में लगाएं। गोल्ड, सिल्वर में एसआईपी फिलहाल बंद करें और इस रकम का इस्तेमाल कर्ज चुकाने में करें। आप अपना 25 लाख रुपये का कवर बढ़ाकर 50 लाख रुपये करें और म्यूचुअल फंड, एसआईपी, पीपीएफ में निवेश जारी रखें। आप अपने परिवार के लिए 5 लाख रुपये का फैमिली फ्लोटर प्लान लें।  


वीडियो देखें