छोटी अवधि के निवेश के लिए इंश्योरेंस ना लें -
Moneycontrol » समाचार » बीमा

छोटी अवधि के निवेश के लिए इंश्योरेंस ना लें

प्रकाशित Sat, 20, 2013 पर 13:36  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पॉलिसीबाजार डॉट कॉम के को-फाउंडर यशीष दहिया ने इंश्योरेंस से जुड़े कई सवालों के जवाब दिए जो आपके भी बहुत काम आ सकते हैं।


सवालः पहले स्मोकिंग करता था और इसके आधार पर टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी का प्रीमियम भरा है। अब स्मोकिंग छोड़ दी है और जानना चाहता हूं कि क्या इसके आधार पर प्रीमियम कम हो सकता है? क्या मुझे नई टर्म पॉलिसी लेनी चाहिए?


यशीष दहियाः बीमा कंपनियां पॉलिसी देते समय स्मोकिंग जैसी आदतों को ध्यान में रखकर प्रीमियम तय करती हैं। अगर स्मोकिंग छोड़े हुए 2 साल से ज्यादा हो गए हैं तो ही आप नए प्रीमियम के लिए आवेदन दे सकते हैं। आप नई पॉलिसी लेना चाहते हैं तो भी पुरानी पॉलिसी को तब तक जारी रखें जब तक नई पॉलिसी ना मिल जाए।


सवालः एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ यंग स्टार सुपर 2 प्लान ले रखा है। इसका प्रीमियम 20,000 रुपये सालाना है। 3 साल का प्रीमियम दे दिया है। पॉलिसी जारी रखूं या नहीं?


यशीष दहियाः ये पॉलिसी एक यूलिप चाइल्ड प्लान है जिसका टर्म 10 या 15 साल का होता है। इसमें 5 साल का लॉक इन है। इस पॉलिसी में 1 से 7 साल के लिए प्रीमियम एलोकेशन चार्ज 4 फीसदी है और 8वें साल से 1 फीसदी है। साथ ही इसमें फंड मैनेजेर चार्ज भी लगता है। पॉलिसी के शुरुआती सालों में इसमें चार्ज ज्यादा हैं और अभी इस प्लान से निकलने का कोई फायदा नहीं होगा। ये एक लॉन्ग टर्म प्लान है। ये पॉलिसी बाजार से जुडी़ है और लंबी अवधि में इसमें अच्छा मुनाफा मिल सकता है। आप इस प्लान में बने रह सकते हैं। कम से कम 10 साल के लिए इसे जारी रखें।


सवालः एसबीआई इंवेस्टमेंट प्लान है जिसका प्रीमियन 50,000 रुपये भर चुका हूं। अब फंड वैल्यू 47,000 रुपये है, क्या करूं, इस पॉलिसी को जारी रखूं या नहीं?


यशीष दहियाः ये एक यूलिप है। इसमें पहले साल में 1 फीसदी फंड मैनेजर चार्ज लगता है। सालाना इसमें 6-8 फीसदी चार्ज लगते हैं। आपको इस प़लिसी में ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है। ये 10 साल का प्लान है और इसमें अतिरिक्त प्रीमियम देने पर एक्सीडेंटल डेथ राइडर मिलता है। अगर आप इस पॉलिसी को बंद करते हैं तो आप एक टर्म प्लान लें और साथ में हेल्थ प्लान लिया जाना चाहिए। अगर आप जल्दी पैसा चाहते हैं तो एफडी या म्यूचुअल फंड में निवेश करें। छोटी अवधि के लिए इंश्योरेंस में निवेश करने की रणनीति सही नहीं है।


सवालः स्टार हेल्थ ऑप्टिमा हेल्थ प्लान लिया है जिसका कवर 5 लाख रुपये है। पॉलिसी के दस्तावेज में बेड चार्ज, पैकेज ट्रीटमेंट में लिमिट की बात कही गई है। क्या पॉलिसी बदलनी चाहिए?


यशीष दहियाः इंश्योरेंस पोर्टिबिलिटी काफी आसान हो गई है। अगर स्टार हेल्थ ऑप्टिमा पॉलिसी में बेड चार्ज, पैकेज ट्रीटमेंट में लिमिट की बात कही गई है तो आप अपनी पॉलिसी बदल सकते हैं। मैडिक्लेम बीमा पोर्टिबिलिटी के तहत आप पॉलिसी स्विच कर सकते हैं। आप स्टार हेल्थ के बजाए मैक्स बूपा पॉलिसी ले सकते हैं। इसमें प्रीमियम ज्यादा है लेकिन ट्रीटमेंट के दौरान रूम रेंट, बेड चार्ज पर लिमिट नहीं लगाई गई है। इसके अलावा अपोलो म्यूनिख या रेलिगेयर की पॉलिसी भी ले सकते हैं।  


वीडियो देखें