क्या है पॉलिसी सरेंडर का सही समय -
Moneycontrol » समाचार » बीमा

क्या है पॉलिसी सरेंडर का सही समय

प्रकाशित Thu, 11, 2013 पर 14:00  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बजाज कैपिटल के ग्रुप सीईओ अनिल चोपड़ा बता रहे हैं इंश्योंरेंस लेते समय किन बातों का ध्यान रखें, वहीं कौन सी पॉलिसी लेना बेहतर रहेगा। साथ ही बता रहे हैं आपके इंश्योरेंस से जुड़े सवालों के जवाब।


सवाल : पॉलिसी खरीदते या सरेंडर करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?


अनिल चोपड़ा : किसी भी पॉलिसी से निकलने के लिए सरेंडर चार्ज कम होने का इंतजार करना चाहिए। केवल रिटर्न के लिहाज से प्लान से निकलना सही नहीं है। पॉलिसी लेने से पहले कम प्रीमियम वाले प्लान के बारे में पता करना जरूरी है। इसके अलावा आप कहीं अंडर या फिर ज्यादा इंश्योर्ड तो नहीं है इसका ध्यान रखना चाहिए। 

सवाल : मैं एक सिंगल मदर हूं। मैं एलआईसी के हेल्थ प्रोटेक्शन प्लस में हर साल 15,000 रुपये का प्रीमियम भरती हूं। अब तक सिर्फ दो बार ही प्रीमियम भरा है। पॉलिसी लेने के बाद पता चला कि ये कैश पॉलिसी नहीं है। पॉलिसी का कवर भी सिर्फ 4.5 लाख रुपये है, जो किसी गंभीर बीमारी होने पर काफी नहीं है।


एजेंट ने पॉलिसी देते समय बताया था कि ये एक एनएवी प्लान है, इसमें रिटर्न भी मिलेगा। अब क्या इसमें बने रहे है या निकल जाएं? हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में रिटर्न क्यों नही होता?
 
अनिल चोपड़ा : आमतौर पर जो इंश्योरेंस प्लान होते हैं वो प्योर इंश्योरेंस प्लान होते हैं। एलआईसी का हेल्थ प्रोटेक्शन प्लस इंवेस्टमेंट कम इंश्योरेंस प्लान है। इस प्लान में आपको हेल्थ कवर के साथ-साथ रिटर्न भी मिलेगा। सेक्शन 80 डी के तहत आप टैक्स छूट का फायदा भी उठा सकते हैं। इस प्लान में आपको कम से कम 3 प्रीमियम जरूर भरना चाहिए।


आपको आगे भी हेल्थ कवर का फायदा मिलता रहेगा। डेट मार्केट के अनुसार आपको इस प्लान में रिटर्न मिलेंगे। सिंगल मदर होने के कारण आपको अपने फैमिली की सुरक्षा के लिए अपने सालाना आमदनी के 7 गुना लाइफ इंश्योरेंस कवर लेना चाहिए या आप फैमिली फ्लोटर प्लान भी ले सकते हैं।  


सवाल : मेरी उम्र 44 साल है। मैंने 50 लाख रुपये का टर्म प्लान लिया है। इसके अलावा मेरे पास 5 लाख रुपये की एलआईसी सरल जीवन पॉलिसी है जिसमें अब तक 5 प्रीमियम भरे हैं। एलआईसी सरल जीवन पॉलिसी और मनी प्लस में ज्यादा रिटर्न नहीं है। क्या इन पॉलिसी से बाहर निकलना सही रहेगा?


अनिल चोपड़ा : एलआईसी सरल जीवन एक ट्रेडिशनल प्लान है और शेयर बाजार से इसका कोई संबध नहीं है। इस पॉलिसी को सरेंडर करने पर आपको नुकसान हो सकता है। लिहाजा इस पॉलिसी में बने रहने की सलाह होगी। एलआईसी सरल जीवन में डेट फंड के हिसाब से रिटर्न मिलेंगे। साथ ही 80सी के तहत टैक्स छूट और रिस्क कवर भी मिलेगा। अगर आप अभी पॉलिसी सरेंडर करते हैं तो आपको अपनी फंड वैल्यू से कम रिटर्न मिलेगा। लेकिन अगर इंवेस्टमेंट जारी रखते है तो आपको कंपाउंडिंग का बेनिफिट मिलेगा।  


सवाल : मेरी उम्र 37 साल है और मेरी सालाना आमदनी 8 लाख रुपये है। मुझे डायबिटीज है और मैं धूम्रपान करता हूं। मेरे पास रिलायंस की फैमिली फ्लोटर पॉलिसी है। मुझे टर्म प्लान के साथ क्रिटिकल इलनेस और पर्सनल डिसेबिलिटी कवर चाहिए। कौन सी पॉलिसी लूं?


अनिल चोपड़ा : क्रिटिकल इलनेस कवर के लिए आप स्टार हेल्थ पॉलिसी ले सकते हैं। वहीं पर्सनल एक्सीडेंटल कवर के लिए फ्यूचर जेनराली की एक्सीडेंटल सुरक्षा पॉलिसी बेहतर हो सकती हैं।


सवाल : एलआईसी जीवन सरल प्लान सरेंडर करके पैसे का इस्तेमाल कर्ज चुकाने में करना चाहता हूं। क्या पॉलिसी सरेंडर करके कर्ज चुकाना सही होगा या पॉलिसी जारी रखूं? मैने हाल ही में मैटर्निटी बेनिफिट के साथ 2 लाख रुपये कवर की मैक्स बूपा की पॉलिसी ली है। क्या ये फैसला सही है?     


अनिल चोपड़ा : एलआईसी जीवन सरल ट्रेडिशनल प्लान है और ये रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए, बच्चों के हायर एजुकेशन के लिए या लंबी अवधि के लक्ष्य के लिए अच्छा प्लान है। ये प्लान सुनिश्चित तौर पर आपके फ्यूचर को प्रोटेक्ट करता है। इसलिए पॉलिसी सरेंडर करके कर्ज चुकाना सही होगा। अगर कोई इमरजेंसी नहीं है तो आप अपने किसी अन्य इंवेस्टमेंट से कर्ज कम कर सकते हैं। एलआईसी जीवन सरल से निकलने पर नुकसान हो सकता है।


मैक्स बूपा की ये अच्छी पॉलिसी है। इसमें हेल्थ कवर के साथ आप के पत्नी को मैटर्निटी बेनिफिट भी मिलेगा। लिहाजा इस पॉलिसी को जारी रखना चाहिए। 2 लाख रुपये की पॉलिसी के लिए आपको 3,225 रुपये का प्रीमियम देना होगा।


वीडियो देखें