Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरु से सुलझाएं टैक्स की उलझन

प्रकाशित Fri, 01, 2013 पर 18:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स से जुड़ी उलझनें कई बार हमें परेशान करती हैं लेकिन टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया उन्हें सुलझाने में हमारी मदद करते हैं। टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया ने टैक्स से जुड़े कई सवालों के जवाब दिए जो आपके भी बहुत काम आ सकते हैं।


सवाल : हाल ही में सीबीडीटी ने घर के किराए से संबंधित सर्कुलर जारी किया है, क्या है ये सर्कुलर और ये किनके लिए ध्यान देने लायक है?


सुभाष लखोटिया : अगर वार्षिक किराया 1 लाख रुपये से ज्यादा है तो मकान मालिक का पॅन बताना जरूरी है। पहले ये सीमा 1.80 लाख रुपये थी। अगर मकान मालिक के पास पॅन नही तो कंपनी में मकान मालिक का नाम, पता दें।


सवाल : क्या माता-पिता के माइनर बेनिफिशियरी ट्रस्ट में शेयर गिफ्ट करने पर टैक्स छूट मिलेगी?


सुभाष लखोटिया : लिस्टेड शेयर में हुए लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। ट्रस्ट के लिए भी कैपिटल गेंस के नियम लागू होंगे। 


सवाल : क्या एचयूएफ को इंटरेस्ट फ्री लोन दे सकते हैं?

सुभाष लखोटिया : एचयूएफ को इंटरेस्ट फ्री लोन देने का आइडिया अच्छा है। एचयूएफ को इंटरेस्ट फ्री लोन देने पर टैक्स की बचत होगी। 


सवाल : एक साल से डॉमिनोज पिज्जा में काम कर रहे हैं, अब दूसरी कंपनी ज्वॉइन करना चाहते हैं, दूसरी कंपनी में अपना पीएफ अकाउंट कैसे ट्रांसफर करें?


सुभाष लखोटिया :  पहली कंपनी से जल्दबाजी में पैसे नहीं निकालें। नौकरी 5 साल से ज्यादा की है तो कोई चिंता नहीं है। लेकिन अगर कंपनी में 5 साल से कम काम किया है तो पैसे नए कंपनी में ट्रांसफर करें। और फिर दूसरी कंपनी ज्वॉइन करें और पीएफ अकाउंट का ब्यौरा पीएफ अथॉरिटी को दें। पहली कंपनी से मिली पीएफ की रकम दूसरी कंपनी में ट्रांसफर करें। पहली कंपनी से मिली पीएफ की रकम अगर ट्रांसफर करते हैं तो उस पर टैक्स नहीं लगेगा।


वीडियो देखें