Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनी: इश्योरेंस को निवेश ना समझें

प्रकाशित Fri, 06, 2013 पर 09:19  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

प्रोबस इंश्योरेंस ब्रोकर के इंश्योरेंस हेड आत्रेय भारद्वाज बता रहे हैं इंश्योरेंस लेते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। वहीं कौन सी पॉलिसी आपकी सुरक्षा के लिहाज से बेहतर रहेगी।


सवाल: मैंने एलआईसी जीवन आनंद की 3 पॉलिसी ली है। 1 पॉलिसी मेरे नाम है, जबकि 2 पॉलिसी पत्नी के नाम से है। मैं पिछले 3 साल से इनमें निवेश कर रहा हूं, लेकिन रिटर्न कुछ खास नहीं दिखाई दे रहे हैं, क्या करूं?


आत्रेय भारद्वाज: इंश्योरेंस और निवेश दोनों ही अलग-अलग चीजें हैं। इंश्योरेंस में कभी भी निवेश का नजरिया नहीं रखना चाहिए। हालांकि आनंद एक बेहतर प्लान हैं जिसके लंबी अवधि में कई फायदे हैं। साथ ही ये प्लान आपको लाइफ टाइम तक सुरक्षा प्रदान करता है। ऐसे में मुमकिन हो तो एलआईसी जीवन आनंद में बने रहें। वहीं बेहतर रिटर्न के लिए म्यूचुअल फंड जैसे दूसरे विकल्पों को चुनाव करें।


सवाल: मेरी सालाना आय 2 लाख रुपये है। मैं 5-10 साल के नजरिए से एक टर्म प्लान लेना चाहता हूं। कौन सा प्लान लेना बेहतर रहेगा?


आत्रेय भारद्वाज: टर्म प्लान अपनी जरूरतों को मद्देनजर रखते हुए लंबी अवधि के लिए लेना चाहिए। वहीं सालाना आय का 10-12 गुना रकम का टर्म प्लान लेना चाहिए। एचडीएफसी, अविवा लाइफ और एगॉन रेलीगेयर के टर्म प्लान बेहतर हैं, इनका चयन कर सकते हैं।


सवाल: मैंने अविवा लाइफ का एक टर्म प्लान लिया है, जिसका कवर 50 लाख रुपये है। लेकिन मैंने सुना है कि निजी इंश्योरेंस कंपनियों का क्लेम सेटलमेंट रेश्यो एलआईसी की तुलना में काफी कम होता है। क्या ये सही है, वहीं अविवा के प्लान से भविष्य में क्लेम मिलने में कोई दिक्कत तो नहीं होगी?


आत्रेय भारद्वाज: यह एक गलत धारणा कई बीमा धारकों के मन में होती है कि प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियां क्लेम देने में दिक्कते पैदा करती हैं। लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं हैस भारत में एलआईसी समेत सभी इंश्योरेंस कंपनियां आईआरडीए द्वारा रेगुलेट होती है। कोई भी इंश्योरेंस कंपनी जानबूझकर क्लेम रिजेक्ट नहीं करती है, चाहे एलआईसी हो या फिर कोई निजी कंपनी। प्लान खरीदते समय अपने बारे में सही और संपूर्ण जानकारी इंश्योरेंस कंपनी दें, इससे क्लेम रिजेक्ट होने की गुंजाइश बेहद कम हो जाती है।


सवाल: मैं रिटर्न के नजरिए से एगॉन रेलीगेयर प्लान में निवेश करना चाहता हूं। हर महीने करीब 2,000 रुपये इस प्लान में लगाना चाहता हूं। क्या 15 साल में 15 लाख रुपये हासिल हो पाएंगे?


आत्रेय भारद्वाज: इंश्योरेंस में निवेश का नजरिया नहीं रखना चाहिए। हालांकि एगॉन रेलीगेयर एक यूलिप प्लान है, जिसमें लंबी अवधि में अच्छे रिटर्न मिलते हैं। लेकिन 2,000 रुपये के निवेश से 15 साल में 15 लाख रुपये नहीं जोड़े जा सकते हैं। इस निवेश से 6-8 लाख रुपये तक ही जमा हो सकते हैं।


वीडियो देखें