योर मनी: फाइनेंशियल प्लानिंग को दें सही दिशा -
Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

योर मनी: फाइनेंशियल प्लानिंग को दें सही दिशा

प्रकाशित Sat, 07, 2013 पर 11:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ऑप्टिमा मनी मैनेजर्स के पंकज मठपाल बता रहे हैं कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग, ताकि भविष्य के वित्तीय लक्ष्यों को आसानी से हासिल किया जा सके।


सवाल: मेरी उम्र 32 साल, पत्नी की उम्र 26 साल है। 2 साल की एक बेटी भी है, मासिक आय 47,000 रुपये है। मैंने यूलिप ग्रोथ फंड में 20 साल के लिए निवेश किया है। वहीं पत्नी के नाम से एलआईसी जीवन सरल 10 साल के लिए लिया है। 18 साल बाद बेटी की पढ़ाई के लिए 50 लाख रुपये, जबकि 22 साल बाद शादी के लिए 50 लाख रुपये चाहिए। इसके अलावा रिटायरमेंट के लिए 3 करोड़ रुपये की आवश्यकता होगी, किस तरह प्लानिंग करू?


पंकज मठपाल: सबसे पहले परिवार की सुरक्षा के मद्देनजर एक फैमिली फ्लोटर प्लान लें। उसके बाद पर्याप्त कवर का टर्म प्लान लें, पत्नी के लिए भी अलग से टर्म प्लान लेते हैं तो ज्यादा बेहतर होगा। इसके अलावा निवेश और इंश्योरेंस दोनों को अलग रखें, इन्हें मिलाएं नहीं। महंगी इंश्योरेंस पॉलिसी में प्रीमियम भरने से अच्छा टर्म प्लान को तवज्जो दें और बाकी के पैसे म्यूचुअल फंड में डालें।

बेटी की पढ़ाई, शादी और फिर आपके रिटायरमेंट के लक्ष्य एसआईपी के जरिए म्यूचुअल फंड में निवेश से ही हासिल हो सकते हैं। आईसीआईसीआई प्रू लॉन्ग टर्म फंड, आईसीआईसीआई डायनामिक फंड और बिड़ला सनलाइफ इक्विटी फंड जैसे विकल्पों में निवेश कर सकते हैं।


सवाल: मेरी उम्र 45 साल, पत्नी की उम्र 37 साल है। 13 साल का एक बेटा है और मासिक आय करीब 1.25 लाख रुपये है। मैंने एसआईपी के जरिए ढ़ेर सारे फंड्स में निवेश किया है, साथ ही 3-4 इंश्योरेंस पॉलिसी में पैसा लगाया है। इस निवेश से साल 2019 में 25 लाख रुपये, साल 2024 में 20 लाख रुपये और 2028 में 1.75 करोड़ रुपये जुटाना चाहता हूं, कैसे लक्ष्य हासिल होगा?


पंकज मठपाल: इंश्योरेंस और निवेश दोनों में नजरिया अलग रखें। इंश्योरेंस के लिए टर्म प्लान को ज्यादा महत्व देना चाहिए। पोर्टफोलियो में पेंशन प्लान, यूलिप प्लान और ट्रेडिशनल प्लान ज्यादा नहीं रखें। इसके अलावा पोर्टफोलियो में ढेर सारे फंड रखना भी उचित नहीं है, पोर्टफोलियो को हमेशा डाइवर्सिफाइड बनाएं। एक ही तरह के कई फंड पोर्टफोलियो में नहीं रखना चाहिए।

1-2 लार्ज कैप फंड, उतने ही मिडकैप फंड और 1-2 डेट फंड, इतने ही फंड पोर्टफोलियो में रखें। वहीं इन फंड्स की नियमित रूप से समीक्षा करते रहें, जिन फंड्स का प्रदर्शन खराब हो उन्हें पोर्टफोलियो से बाहर निकाल दें। इसके अलावा अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए आय बढ़ने के साथ-साथ निवेश की रकम बढ़ाते जाएं।


सवाल: मेरी उम्र 24 साल है और सालाना आय 2.64 लाख रुपये है। फिलहाल मुझपर कोई जिम्मेदारी नहीं है, लेकिन मैंने भारती अक्सा का टर्म प्लान 42 साल के लिए लिया है। इसके अलावा पीपीएफ में हर महीने 2,000 रुपये का निवेश कर रहा हूं। वहीं अब म्यूचुअल फंड में भी हर महीने 5,000 रुपये निवेश करना चाहता हूं, कैसे करूं?


पंकज मठपाल: यह काफी सराहनीय है कि आप 24 साल की उम्र में ही निवेश की सोच रहे हैं। भारती अक्सा का टर्म प्लान 42 साल के लिए लिया है वह पर्याप्त नहीं है, टर्म प्लान करीब 60 साल की उम्र तक तो होना ही चाहिए। पीपीएफ में 2,000 रुपये का निवेश जारी रखें। इसके अलावा 5,000 रुपये का अतिरिक्त निवेश आईसीआईसीआई प्रू फोक्स्ड ब्लू चिप फंड, यूटीआई अपॉर्च्युनिटी फंड और आईडीएफसी प्रीमियकर इक्विटी फंड इत्यादि में कर सकते हैं।


वीडियो देखें