Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनी: हेल्थ प्लान लेने में ना करें देरी

प्रकाशित Wed, 15, 2014 पर 09:02  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

इंटरनेशनल मनी मैटर्स के उदय धूत बता रहे हैं इंश्योरेंस पॉलिसी लेते समय किन बातों का ख्याल रखें। वहीं कौन सी पॉलिसी आपके के लिए बेहतर साबित होगी।


सवाल: मेरी उम्र 43 साल है और परिवार में 5 सदस्य हैं। मैं एक 5 लाख रुपये कवर की हेल्थ पॉलिसी लेना चाहता हूं। कौन सी पॉलिसी लेना बेहतर रहेगा?


उदय धूत: 43 साल की उम्र में हेल्थ पॉलिसी लेने की सोच रहे हैं, यह काफी देर हो चुकी है। हालांकि अब भी पॉलिसी ले सकते हैं इसमें कोई दिक्कत नहीं। पहली बार पॉलिसी ले रहे हैं तो 5 लाख का कवर पर्याप्त है। अपोलो म्यूनिख ईजी अथवा अपोलो ऑप्टिमा में से कोई एक पॉलिसी ले सकते हैं।


सवाल: मेरे पास एचडीएफसी यंग स्टार, बिड़ला फ्रंटलाइन ड्रीम समेत 3 इंश्योरेंस पॉलिसी है। लेकिन आईआरडीए के इंश्योरेंस विभाग से कोई फोन करके  औप पॉलिसी लेने को कहता है। ज्यादा रिटर्न का लालच भी देता है। कहीं ये कोई फर्जी कॉल तो नहीं, क्या फोन कॉल पर भरोसा करके पॉलिसी लेना चाहिए?


उदय धूत: ऐसे फोन कॉल से पॉलिसी लेने का निर्णय बिलकुल नहीं लें। आईआरडीए एक इंश्योरेंस रेगुलेटर है, इसकी ओर इस तरह के कॉल नहीं आ सकते हैं। बेहतर होगा ऐसे कॉल की शिकायत आईआरडीए से कर सकते हैं। वहीं ज्यादा रिटर्न इत्यादि के झांसे में आकर पॉलिसी नहीं लेना चाहिए।


सवाल: मेरे पास एलआईसी जीवन सरल की 2 इंश्योरेंस पॉलिसी है। मैं पिछले 2.5 साल से इसमें प्रीमियम भर रहा हूं। लेकिन मालूम पड़ा है पॉलिसी के रिटर्न काफी कम है, क्या इस प्लान से निकल सकता हूं?


उदय धूत: एलआईसी जीवन सरल एक एंडॉवमेंट प्लान है। इस प्लान से 3 साल के बाद ही निकला जा सकता है। लेकिन साल बाद भी पॉलिसी सरेंडर करना घाटे का सौदा होगा। इससे आपको काफी नुकसान झेलना पड़ सकता है। ऐसे में बेहतर होगा यदि पॉलिसी को जारी रखें।


वीडियो देखें