Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनी: इंश्योरेंस पॉलिसी की शर्तों को समझें

प्रकाशित Wed, 05, 2014 पर 09:49  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रूंगटा कॉर्पोरेट सर्विसेस के हर्षवर्धन रूंगटा बता रहे इंश्योरेंस पॉलिसी लेते समय कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए। वहीं कौन सा प्लान आपके लिए होगा सबसे बेहतर।


सवाल: मैंने हाल ही में आईसीआईसीआई का टर्म प्लान लिया है, जिसका कवर 50 लाख रुपये है। लेकिन पॉलिसी की कुछ शर्तों के लेकर असमंजस में हूं, पॉलिसी में डेथ बेनेफिट की शर्तों के मुताबिक आईसीआईसीआई के अलावा दूसरी किसी कंपनी का टर्म प्लान नहीं ले सकते हैं। क्या से शर्त उचित है, इंश्योरेंस कंपनियां ऐसा कर सकती है?


जवाब: यह काफी सराहनीय है कि आपने पॉलिसी की शर्तों को सही तरीके से पढ़ा है। लेकिन आईसीआईसीआई के टर्म प्लान के डॉक्युमेंट पढ़ने के बाद ऐसी कोई शर्ते नहीं दिखाई दी है। वहीं कोई भी जीवन बीमा कंपनी आपको दूसरा टर्न प्लान लेने से रोक नहीं सकती है। फिर यदि पॉलिसी की शर्तों को लेकर असमंजस में हैं तो, किसी बेहतर जानकार से पॉलिसी के डॉक्युमेंट पढ़वा के संतुष्टि कर लें।


सवाल: मेरी उम्र 37 साल, मैं रेलवे कर्मचारी हूं और मासिक आय 30,000 रुपये है। मैंने मैक्स न्यूयॉर्क लाइफ का फ्लेक्सी फॉर्च्यून यूलिप प्लान लिया है। पॉलिसी का सालाना प्रीमियम 30,000 रुपये है, 1 प्रीमियम भर भी चुका हूं। लेकिन अब पॉलिसी की मौजूदा वैल्यु से संतुष्ट नहीं हूं। क्या इस पॉलिसी से निकल जाना ठीक रहेगा?


जवाब: कभी भी निवेश के नजरिए से इंश्योरेंस पॉलिसी नहीं खरीदना चाहिए। वहीं यूलिप प्लान में लंबी अवधि का नजरिया होना चाहिए। शुरुआती साल में पॉलिसी में चार्जेस ज्यादा होते हैं। चाहें तो पॉलिसी सरेंडर कर सकते हैं, क्योंकि अब सरेंडर के नियमों के तहत केवल 6,000 रुपये कटेंगे। बाकी की रकम 5 साल बाद 4 फीसदी ब्याज के साथ आपको मिल जाएगी। वहीं निवेश के लिए म्यूचुअल फंड जैसे विकल्प का चुनाव करें।


वीडियो देखें