योर मनी: इंश्योरेंस को निवेश ना मानें -
Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनी: इंश्योरेंस को निवेश ना मानें

प्रकाशित Fri, 28, 2014 पर 14:53  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पॉलिसीबाजार डॉट कॉम के सीईओ यशीष दहिया बता रहे हैं इंश्योरेंस लेते समय किन बातों का ख्याल रखें। वहीं कौन सी पॉलिसी आपके लिए बेहतर साबित हो सकती है।


सवाल: मैंने एसबीआई की स्मार्ट लाइफ और एसबीआई यूनिट प्लस ऐसी दो पॉलिसी ली है। दोनों पॉलिसी में निवेश का नजरिया है। ये दोनों पॉलिसी कैसी हैं, क्या इसमें बने रहना उचित होगा, या फिर सरेंडर कर दूं?


जवाब: एसबीआई स्मार्ट लाइफ और यूनिट प्लस दोनों की यूलिप प्लान हैं। हालांकि इन प्लांस का रिटर्न अच्छा है। लेकिन इंश्योरेंस को सभी निवेश के नजरिए से नहीं लेना चाहिए। निवेश के लिए एफडी अथवा म्यूचुअल फंड जैसे विकल्प बेहतर होते हैं। चाहें तो दोनों प्लान को सरेंडर कर सकते हैं। लेकिन फिलहाल सरेंडर करने से कोई पैसा नहीं मिलेगा। आपके प्लान सी सारी रकम 5 साल बाद 4.5 फीसदी के गारंटीड रिटर्न के साथ मिलेगी।


सवाल: मेरी उम्र 30 साल है। मैं 1 करोड़ रुपये का टर्म प्लान 30 साल की अवधि के लिए लेना चाहता हूं। कौन सी कंपनी का टर्म प्लान लेना बेहतर रहेगा?


जवाब: सालाना आय का 10-12 गुना रकम का टर्म प्लान लेना चाहिए। मौजूदा समय में कई निजी कंपनियां हैं जो ऑनलाइन टर्म प्लान मुहैया कराती हैं। फिलहाल सरकारी कंपनी एलआईसी का ऑनलाइन टर्म नहीं आया है। ऑनलाइन टर्म प्लान सस्ते होते हैं, इसलिए ऑनलाइन ही लेना बेहतर रहेगा। लेकिन टर्म प्लान लेते समय ख्याल रखें कि इंश्योरेंस कंपनी को अपनी संपूर्ण जानकारी दें। इससे भविष्य में क्लेम रिजेक्ट होने की आशंका नहीं रहती।


सवाल: मेरे पास बीएसएल ड्रीमलाइन प्लान है, जिसका कवर 15 लाख रुपये है। वहीं अविवा आई-लाइफ प्लान भी है, इसमें कवर 50 लाख रुपये का है। बीएसएल ड्रीमलाइन प्लान कैसा है, क्या इसमें बना रहूं। वहीं क्या स्टार का हेल्थ प्लान ले सकता हूं?


जवाब: बीएसएल ड्रीमलाइन प्लान, एक होल लाइफ प्लान है। इससे निकलने पर काफी नुकसान झेलना पड़ सकता है। वहीं पॉलिसी के रिटर्न भी ज्यादा आकर्षक नहीं हैं। ऐसे में यदि पॉलिसी का लॉक-इन पीरियड पूरा हो गया है तो इसे पेड अप करवा लें। वहीं स्टार का हेल्थ प्लान लिया जा सकता है। लेकिन बाजार में दूसरी कंपनियों के भी बेहतर हेल्थ प्लान मौजूद हैं, उनको भी देखकर बाकी प्लान से तुलना करके लेना उचित रहेगा।


वीडियो देखें