मैट्रिक्स
 
 
Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
म्युचुअल फंड :- म्युचुअल फंड निवेश, प्रदर्शन, NAV, लाभ कैलक्यूलेटर, फंड की तुलना
आप यहाँ हैं > म्युचुअल फंड > पहला पन्ना
प्रदर्शन ट्रैकर
Select Fund
Category
सेक्टर - फार्मा एंड हेल्थकेयर
सेक्टर - फार्मा एंड हेल्थकेयर
सेक्टर - फार्मा एंड हेल्थकेयर - Returns (in %) - as on Aug 16, 2017
Compare With Indices
  • सेंसेक्स
  • निफ्टी
  • बैंक निफ्टी
  • बैंकेक्स
  • बीएसई ऑटो
  • बीएसई सीडी सूचकांक
  • बीएसई एफएमसीजी सूचकांक
  • बीएसई हेल्थकेयर
  • बीएसई आईपीओ
  • बीएसई आईटी सूचकांक
  • बीएसई मेटल
  • बीएसई तेल और गैस
  • बीएसई पावर सूचकांक
  • बीएसई पीएसयू सूचकांक
  • बीएसई रियल्टी
  • बीएसई TECk सूचकांक
  • बीएसई-100
  • बीएसई-200
  • बीएसई-500
  • बीएसई-मिडकैप
  • बीएसई-स्मालकैप
  • कैपिटल गुड्स
  • सीएनएक्स 100
  • सीएनएक्स आईटी
  • सीएनएक्स मिडकैप
  • सीएनएक्स निफ्टी जूनियर
  • निफ्टी Midcap 50
  • एसएंडपी सीएनएक्स 500
  • एसएंडपी सीएनएक्स डेफ्टी
म्यूचुयल फंड स्कीम क्रिसिल रैंक एयूएम
(Rs. cr.)
Mar 17
1 माह 3 महीने 6 महीने 1 वर्ष 2 वर्ष 3 वर्ष 5yr  
* रिटर्न्स ओवर 1 एअर अरे अन्नुआलीसेद
रिलायंस फार्मा फंड- डायरेक्ट (G) नोट रॅंक्ड
149.74 -8.3 -5.9 -7.2 -10.9 -9.0 7.0 --
रिलायंस फार्मा फंड (G) नोट रॅंक्ड
1,321.80 -8.4 -6.1 -7.6 -11.7 -9.8 6.1 14.6
यूटीआई फार्मा एंड हे्ल्थ - डायरेक्ट (G) नोट रॅंक्ड
21.81 -7.2 -6.7 -6.9 -12.3 -10.4 4.4 --
यूटीआई फार्मा एंड हेल्थ (G) नोट रॅंक्ड
297.82 -7.3 -6.9 -7.3 -13.1 -11.2 3.5 12.7
टाटा इंडिया फार्मा एंड हेल्थ केयर - डीपी (G) नोट रॅंक्ड
9.95 -8.8 -9.1 -6.8 -14.5 -- -- --
एसबीआई फार्मा फंड - डायरेक्ट (G) नोट रॅंक्ड
191.85 -7.4 -7.2 -10.2 -14.7 -9.4 8.0 --
एसबीआई मैग्नम फार्मा फंड (G) नोट रॅंक्ड
844.57 -7.5 -7.5 -10.7 -15.7 -10.5 6.7 17.4
टाटा इंडिया फार्मा एंड हेल्थ केयर - आरपी (G) नोट रॅंक्ड
71.60 -8.9 -9.4 -7.5 -16.0 -- -- --
CATEGORY AVERAGE -8.0 -7.5 -8.3 -14.1 -7.9 4.1 11.2

नोट : रिटर्न की गणना Aug 16, 2017 की एनएवी और Aug 16, 2017 की इंडेक्स वैल्यू के आधार पर की गई है।

एएमएफआई के दिशानिर्देश के तहत 31 दिसंबर 2010 को खत्म तिमाही से फंड हाऊसों ने एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) को मासिक आधार पर जारी करने की प्रक्रिया बंद कर दी है। लिहाजा इस डाटा को तिमाही आधार पर किया जाता है।