Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

कमोडिटी मार्केट: चना वायदा से कितना फायदा!

प्रकाशित Fri, 14, 2017 पर 16:49  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एक साल रोक के बाद चना वायदा फिर से शुरू हो गया है। पिछले साल जून में जब इसपर रोक लगी थी तब दाल 150-200 रुपये किलो बिक रही थी। महंगाई पर मचे बवाल से सरकार को गुस्सा आया और चना वायदा बंद कर दिया गया। लेकिन दाल फिर सुर्खियों में है, महंगाई की वजह से नहीं बल्कि किसानों को भाव नहीं मिल पाने की वजह से। तमाम कोशिशों के बावजूद कीमतों को सपोर्ट नहीं है। ऐसे में फिर से शुरू हुआ है चना वायदा। आज जानेंगे कितना होगा वायदा से फायदा।


चना वायदा के फायदा को समझने के लिए अपने एक्सपर्ट्स से बात करें, इससे पहले आपको बता दें कि एक साल पहले जो सरकार वायदा को महंगाई का विलेन मानते हुए जिस चने के वायदा पर रोक लगा दिया था, आज फिर से उसमें वायदा कारोबार शुरू हो गया है। एनसीडीईएक्स के एमडी और सीईओ समीर शाह का दावा है चना वायदा से किसानों और दाल उद्योग से जुड़ लोगों को फायदा होगा।


इस बार इसका डिलिवरी सेंटर बीकानेर को बनाया गया है। चना वायदा में आज से कारोबार शुरू हुआ। सितंबर वायदा की शुरुआत 5300 रुपये पर हुई और पहले 10 मिनट में ही करीब 15 करोड़ रुपये के सौदे हुए। एक्सचेंज का दावा है कि ये एनसीडीईएक्स का तीसर मोस्ट एक्टिव कॉन्ट्रैक्ट है। बता दें कि चना का सितंबर, अक्टूबर और नवंबर वायदा लॉन्च किया गया है।


एनसीडीईएक्स का दावा है कि चना वायदा से प्राइस डिस्कवरी में मिलेगी मदद। दाल मिलर्स और प्रोसर्स को होगा फायदा होगा। वायदा से किसानों को भी बेहतर दाम मिलेगा। वायदा में गड़बड़ी रोकने के लिए कड़ी निगरानी रखी जाएगी।