Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

किसानों की आय बढ़ाने पर फोकस, सरकार देगी एक्सपोर्ट पर जोर

प्रकाशित Thu, 11, 2018 पर 17:33  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ग्रामीण क्षेत्र खासकर किसानों का हाल बेहाल है। उत्पादन में कमी और सही कीमत ना मिलने के कारण किसान परेशान है और इसका राजनीतिक असर भी दिखने लगा है। ऐसे में माना जा रहा है इस साल बजट का फोकस कृषि क्षेत्र पर रहेगा। वैसे मोदी सरकार ने किसानों की हालात सुधारने के लिए 2022 तक आय दोगुना करने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा है। लेकिन मौजूदा हालात अच्छे नहीं कहे जा सकते। कृषि मूल्य नीति से लेकर ट्रेड पॉलिसी तक सब जगह कुछ ना कुछ पेंच हैं जिससे किसान की हालात खराब है।


हाल में प्रधानमंत्री के इकोनॉमिस्ट की बैठक में किसानों की आय बढ़ाने के लिए कृषि उत्पादकता के साथ एक्सपोर्ट बढ़ाने पर जोर दिया गया। साथ ही ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स का एक्सपोर्ट बढ़ाने की जरूरत महसूस की जा रही है। सरकार ने राज्यों को कृषि एक्सपोर्ट बढ़ाने के तरीके ढूंढने को कहा है। दुनिया में एग्री एक्सपोर्ट का 1600 अरब डॉलर का मार्केट है। कृषि उत्पादन में भारत दूसरे पायदान पर है जबकि एग्री एक्सपोर्ट में भारत आठवें स्थान पर है।


पिछले 4 साल में एक्सपोर्ट में 18 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है जबकि कृषि एक्सपोर्ट 39 अरब डॉलर से घटकर 32 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। हालांकि पिछले 4 साल में कृषि इंपोर्ट में 60 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है जबकि इंपोर्ट 15 अरब डॉलर से बढ़कर 25 अरब डॉलर पर पहुंच गया है।