वित्त वर्ष 2018 रहेगा ज्यादा बेहतर: माइंडट्री -
Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

वित्त वर्ष 2018 रहेगा ज्यादा बेहतर: माइंडट्री

प्रकाशित Fri, 21, 2017 पर 13:56  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में माइंडट्री का मुनाफा 5.8 फीसदी घटकर 97.2 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में माइंडट्री का मुनाफा 103.1 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में माइंडट्री की आय 1.8 फीसदी बढ़कर 1,318.1 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में माइंडट्री की आय 1,295.3 करोड़ रुपये रही थी।


वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में माइंडट्री की डॉलर आय 1.8 फीसदी बढ़कर 19.56 करोड़ डॉलर पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में माइंडट्री की डॉलर आय 19.22 करोड़ डॉलर रहा था।


तिमाही दर तिमाही आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में माइंडट्री का एबिटडा 174 करोड़ रुपये से बढ़कर 187 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर जनवरी-मार्च तिमाही में माइंडट्री का एबिटडा मार्जिन 13.4 फीसदी से मामूली बढ़कर 14.18 फीसदी रहा है। माइंडट्री ने बताया कि एट्रिशन रेट 13.2 फीसदी पर रहा है, जो 2014 के बाद सबसे बेहतर है।


मार्च तिमाही में माइंडट्री का डॉलर आय और मार्जिन अनुमान से बेहतर रहा है। लेकिन फॉरेक्स लॉस से कंपनी के मुनाफे पर दबाव दिखा। सीएनबीसी-आवाज़ के साथ बात करते हुए माइंडट्री के सीईओ रॉस्तव रावणन ने कहा कि चौथी तिमाही में कंपनी के मुनाफे में दबाव देखने के मिला है लेकिन वित्त वर्ष 2018 निश्चित रुपये कंपनी के लिए काफी अच्छा रहेगा।


रॉस्तव रावणन ने कहा कि कंपनी की लागत में कटौती की योजना से ऑपरेशनल लेवल पर कंपनी को फायदा मिला है और कंपनी का कार्यक्षमता में भी बढ़त हुई है। उन्होंने आगे कहा कि करेंसी बदलावों, जियो पोलिटिकल अनिश्चितताओं और माइक्रो इकोनॉमिक बदलावों के चलते आईटी इंडस्ट्री के लिए ग्लोबल संकेत काफी अनिश्चित हैं। कंपनी इन स्थितियों को ध्यान में रखते हुए अपनी रणनीति बना रही है।