Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

डेरिवेटिव ट्रेडिंग शुरू करने पर विचार: आईईएक्स

प्रकाशित Fri, 10, 2017 पर 14:22  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में इंडियन एनर्जी एक्सचेंज का मुनाफा 8 फीसदी बढ़कर 32.6 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में इंडियन एनर्जी एक्सचेंज का मुनाफा 30.1 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में इंडियन एनर्जी एक्सचेंज की आय 10 फीसदी बढ़कर 55.8 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में इंडियन एनर्जी एक्सचेंज की आय 50.8 करोड़ रुपये रही थी।


कंपनी के नतीजों पर सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत में इंडियन एनर्जी एक्सचेंज के एमडी और सीईओ, एस एन गोयल ने बताया कि आईईएक्स बिजली का फिजिकल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है। आईईएक्स बिजली खरीदने और बेचने वाले से 2 पैसे प्रति यूनिट चार्ज करती है। आईईएक्स पर रोजाना 1200 पार्टिसिपेंट्स ट्रेडिंग के लिए आते हैं। दूसरी तिमाही में एक्सचेंज पर वॉल्यूम ग्रोथ 15 फीसदी रही है। दूसरी तिमाही में ब्याज दर कम होने से ब्याज लागत कम रही है।


एस एन गोयल ने ये भी बताया कि फिलहाल चार्जेज में किसी तरह के बदलाव की योजना नहीं है। एक्सचेंज पर डेरिवेटिव ट्रेडिंग शुरू करने पर विचार किया जा रहा है। हालांकि डेरिवेटिव ट्रेडिंग शुरू करने को लेकर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है।