Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

घरेलू कारोबार के दम पर दिखा जोश: जेके टायर

प्रकाशित Fri, 18, 2018 पर 14:17  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर है जेके टायर। जेके टायर ट्रक, बस के लिए रेडियल टायर बनाने वाली देश की नंबर वन कंपनी है। ग्लोबल टायर मैन्यूफैक्चरिंग में कपनी का 22वां रैंक है। दुनिया भर में कंपनी के 12 मैन्यूफैक्चरिंग प्लांट हैं। कपंनी की सालाना 3.2 करोड़ टायर उत्पादन क्षमता है।


मार्च तिमाही में घरेलू कारोबार के दम पर कंपनी के मार्जिन में सुधार आया है। जनवरी-मार्च तिमाही में जेके टायर की आय सालाना आधार पर 7.3 फीसदी बढ़कर 2284 करोड़ रुपये और मुनाफा 77 फीसदी बढ़कर 158.8 करोड़ रुपये रहा है।


चौथी तिमाही में घरेलू कारोबार में कंपनी का एबिटडा 2.5 गुना बढ़कर 334 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 में इंडस्ट्री के मुकाबले कंपनी की ग्रोथ बेहतर रही है।


जेके टायर के डायरेक्टर और प्रेसिडेंट ए के बाजोरिया ने कंपनी के नतीजों पर बात करते हुए कहा कि घरेलू कारोबार के दम पर कंपनी के मार्जिन में सुधार आया है। टायर इंडस्ट्री को चीन के टायरों की वियतनाम, थाईलैंड के जरिए हो रही डंपिंग से नुकसान हो रहा है। सरकार को चाइनीज टायरों पर कम से कम 40 फीसदी एंटी डम्पिंग ड्यूटी लगानी चाहिए।