Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

लागत में कमी से मार्जिन सुधराः सेंचुरी प्लाई

प्रकाशित Wed, 07, 2018 पर 14:11  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में सेंचुरी प्लाई का मुनाफा 25.1 फीसदी बढ़कर 46.7 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में सेंचुरी प्लाई का मुनाफा 37.3 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में सेंचुरी प्लाई की आय 19.8 फीसदी बढ़कर 509.9 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में सेंचुरी प्लाई की आय 425.5 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर तीसरी तिमाही में सेंचुरी प्लाई का एबिटडा 67.4 करोड़ रुपये से बढ़कर 87.8 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में सेंचुरी प्लाई का एबिटडा मार्जिन 15.8 फीसदी से बढ़कर 17.2 फीसदी रहा है।


नो योर कंपनी में सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत में सेंचुरी प्लाई के एमडी, संजय अग्रवाल ने कहा कि जीएसटी की दरों में कटौती से तीसरी तिमाही में फायदा मिला है। इसके अलावा जीएसटी के बाद असंगठित क्षेत्र से संगठित क्षेत्र की ओर हिस्सेदारी बढ़ने से भी फायदा मिला है। जीएसटी के तहत ई-वे बिल लागू होने के बाद संगठित क्षेत्र की कंपनियों को काफी फायदा होगा। ई-वे बिल लागू होने के बाद कारोबार में 25 फीसदी की दर से बढ़ोतरी की उम्मीद है।


संजय अग्रवाल का कहना है कि तीसरी तिमाही में एमडीआर प्लांट के शुरू होने से भी फायदा मिला है। होशियापुर के एमडीआर प्लांट की कैपिसिटी यूटिलाइजेशन 60 फीसदी तक पहुंच गई है। वहीं लागत में कमी आने से मार्जिन में सुधार देखने को मिला है।